Guna : 5 रुपए के अभाव में पूरी रात अस्पताल के बाहर तड़पता रहा मरीज, मौत

Jaivardhan Singh : बीजेपी सरकार के पास विधायक ख़रीदने के लिये 35 करोड़ है पर इन गरीबों के लिये 5 रुपये भी नहीं

Updated: Jul-25, 2020, 06:29 PM IST

Guna : 5 रुपए के अभाव में पूरी रात अस्पताल के बाहर तड़पता रहा मरीज, मौत

गुना। BJP नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के क्षेत्र गुना जिले से एक बार फिर मानवीय मूल्यों को शर्मसार करने वाली खबर आई है। गुना में 5 रुपए के अभाव में एक टीबी मरीज ने अस्पताल के बाहर अपनी पत्नी व ढाई साल के बच्चे के सामने दम तोड दिया। इस मामले पर पूर्व मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि बीजेपी के पास विधायक खरीदने के लिए 35 करोड़ रुपए तो हैं लेकिन इन गरीबों के लिए पांच रुपए भी नहीं।

गुना के अशोकनगर निवासी सुनील धाकड़ टीबी के मरीज थे। उनके पास इलाज करवाने के लिए पैसे नहीं थे की वह कहीं अच्छी जगह इलाज करवा सकें। गुरुवार को तबियत ज्यादा बिगड़ने के बाद उनकी पत्नी ने उन्हें लेकर सरकारी अस्पताल पहुंची। इस दौरान उनके साथ उनका ढाई साल का बेटा भी साथ था। धाकड़ की पत्नी को उम्मीद थी कि सरकारी अस्पताल में उन्हें इलाज मिल जाएगा पर अस्पताल प्रशासन ने सरकारी नियमों के अनुसार उनसे पर्ची कटवाने के किए पांच रुपए मांगे। गरीबी का आलम ऐसा था उनके पास सरकारी अस्पताल के पर्ची कटवाने के लिए पांच रुपए भी नहीं थे।

रात भर गिड़गिड़ाती रही पत्नी 

रिपोर्ट्स के मुताबिक सुनील धाकड़ की पत्नी रात भर अस्पताल के कर्मियों से उन्हें भर्ती करने के लिए इस उम्मीद के साथ गिड़गिड़ाती रही कि शायद कोई तरस खाकर उन्हें पांच रुपए की मदद करेगा। लेकिन किसी को उसकी परवाह नहीं थी। इसके बाद वह अपने ढाई साल के मासूम बच्चे और बीमार पति के साथ अस्पताल के बाहर बैठी रही। उसे उम्मीद थी कि सुबह कोई उनकी मदद करेगा लेकिन इसी बीच धाकड़ की मौत हो गयी।

'मामा' व 'जनसेवक' आंखें खोल देखें सच्चाई

मामले पर अस्पताल प्रशासन चुप्पी साधे हुए है वहीं जिला कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने रिपोर्ट मांगी है। ग्वालियर संभाग के कमिश्नर एमबी ओझा ने मामले पर करवाई करने का भरोसा दिया है। घटना प्रकाश में आने के बाद कांग्रेस ने बीजेपी सरकार के कार्यशैली पर सवाल खड़ा किया है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा है कि, 'ख़ुद को मामा बताने वाले व ख़ुद को बड़ा जनसेवक बताने वाले आंख खोलकर देखें यह सच्चाई , प्रदेश वासियो को झूठे हवाई सपने दिखाना बंद करें और ज़मीन पर लौट आएं, प्रदेश के ग़रीब वर्ग की चिंता करे, उन्हें कम से कम इलाज तो उपलब्ध करवाएं।' 

MLA खरीदने के लिए 35 करोड़, इलाज के लिए पांच रुपए भी नहीं

इस घटना को शर्मनाक बताते हुए कांग्रेस नेता व पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह ने सीएम शिवराज और ज्योतिरादित्य सिंधिया को निशाने पर लिया है। उन्होंने कहा है कि बीजेपी और शिवराज सरकार के पास विधायक ख़रीदने के लिये 35 करोड़ तो है पर इन गरीबों के लिये 5 रुपये भी नहीं है। कांग्रेस नेता ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा, 'यह उसी गुना ग्वालियर क्षेत्र की घटना है जहां के कुछ विधायकों ने अपना ज़मीर करोड़ो रुपये में बेचा है पर जिन लोगों ने उन्हें जिताया उन लोगो का दुर्भाग्य देखिये मात्र 5 रुपए ना होने के कारण ये शिवराज सरकार उनका इलाज तो दूर, भर्ती तक नहीं करती है।' बता दें कि गुना कांग्रेस से बागी होकर बीजेपी जॉइन करने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया का क्षेत्र है।