गुना की जनता से जो गलती हुई, महाराज आप बड़े, क्षमा करें....: महेंद्र सिंह सिसोदिया

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री ने नरेंद्र मोदी की तुलना मुगल बादशाह अकबर से की

Updated: May 20, 2022, 04:24 PM IST

गुना की जनता से जो गलती हुई, महाराज आप बड़े, क्षमा करें....: महेंद्र सिंह सिसोदिया
Photo Courtesy: Facebook

गुना: मध्यप्रदेश सरकार के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने लोकसभा चुनाव, 2019 में भाजपा उम्मीदवार केपी यादव द्वारा ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिली हार के लिए गुना की जनता को जिम्मेदार ठहराया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना मुगल बादशाह अकबर से कर दी।
महेंद्र सिंह सिसोदिया ने कहा कि महाराज आपसे यही निवेदन है जो गलती हुई सो हुई.. आप बड़े हैं, क्षमा बड़ों को शोभा देती है, गुना की जनता आपके साथ है, साथ थी और साथ रहेगी।
महाराज, अब आप भी उसी परिवार के हैं जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आपको देश का नागरिक उड्डयन मंत्री बनाया है, लोगों का कुर्सी पर बैठने से व्यक्तित्व चमकता है लेकिन महाराज, आपके बैठने से कुर्सी चमकती है।
मैं मानता हूं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को, अकबर इसलिए बड़ा था कि उसके पास नौ हीरे थे, मैं मानता हूं कि अकबर में ये छाटने की क्षमता थी कि वो हीरे सही है कि नहीं और इसलिए नरेंद्र मोदी जी ने सर्वश्रेष्ठ हीरा गुना और मध्यप्रदेश का प्रतिनिधित्व करने वाले महाराज को चुना।
इस पर कांग्रेस की तीखी प्रतिक्रिया सामने आई, कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट किया कि मंत्री जी ऊवाच - “गुना की जनता से जो गलती हुई , उसको माफ़ करे…”  “2019 की भूल - कमल का फूल”  क्या गुना की जनता ने भाजपा को जिताकर गलती की…?  पार्टी बड़ी या महाराज…?

 

 

नरेंद्र सलूजा ने दूसरे ट्वीट में निशाना साधते हुए लिखा कि मंत्री जी इशारों में कह रहे है कि - “ 2019 की भूल - कमल का फूल “ और “मोदी जी जिन्हें भक्तगण हिंदू सम्राट बताते है , उनकी तुलना मुग़ल शासक अकबर से कर रहे है…?”

 

 

मंत्री जी का ये बयान लोकतांत्रिक व्यवस्था के अनुसार ठीक नही है क्योंकि लोकतंत्र में नेता चुनने का अधिकार जनता को होता है और गुना लोकसभा क्षेत्र में 8 विधानसभा क्षेत्रों के 12 लाख से ज्यादा मतदाता आते हैं और ऐसे में मंत्री जी द्वारा मतदाताओं को गलत ठहराना कहां तक उचित है।

यह भी पढ़ें...सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त न्यायिक आयोग ने हैदराबाद पुलिस एनकाउंटर को बताया फर्जी
गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना में आयोजित भारतीय जनता युवा मोर्चा के युवा सम्मेलन को संबोधित करने आए थे और लोकसभा चुनाव 2019 में उन्हीं के सहयोगी और भाजपा उम्मीदवार केपी यादव ने सिंधिया को 1,25,549 वोटों के अंतर से चुनाव हरा दिया जिसके बाद वे अपने विधायकों के साथ भाजपा में चले गए, मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिर गई और सिंधिया राज्यसभा सांसद बन, आज केंद्र में नागरिक उड्डयन मंत्री हैं।