जेईई में 44 छात्रों को मिली 100 परसेंटाइल, 18 छात्रों ने किया टॉप

परीक्षा आयोजित कराने वाली एनटीए ने यह साफ कर दिया है कि परिणामों कि वह रिचेकिंग नहीं करेगी, लिहाज़ा इसे ही अंतिम परिणाम माना जाएगा

Publish: Sep 15, 2021, 12:03 PM IST

जेईई में 44 छात्रों को मिली 100 परसेंटाइल, 18 छात्रों ने किया टॉप
प्रतिकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली। इंजीनियरिंग में दाखिला लेने के लिए आयोजित की जाने वाली जेईई मेन की परीक्षा का परिणाम जारी किया जा चुका है। जेईई मेन सेशन 4 की परीक्षा देने वाले कुल 44 अभ्यर्थियों की 100 परसेंटाइल आई है। वहीं देश भर में 18 छात्रों ने टॉप किया है। यानी कुल 18 छात्रों की ऑल इंडिया रैंक वन आई है।

मंगलवार देर रात शिक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने यह जानकारी साझा की। टॉप रैंक हासिल करने वाले 18 उम्मीदवारों में से 4 आंध्र प्रदेश के हैं, जबकि तीन राजस्थान से हैं। इनके अलावा दो-दो अभ्यर्थी दिल्ली, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश के हैं। टॉप रैंक हासिल करने वाले अभ्यर्थियों के नाम गौरव दास (कर्नाटक), वैभव विशाल (बिहार), सिद्धांत मुखर्जी, मृदुल अग्रवाल और अंशुल वर्मा (राजस्थान) इत्यादि हैं। 

जेईई मेन की परीक्षा में कुल 7.32 लाख छात्र शामिल हुए थे। जेईई मेन क्वालीफाई करने वाले कुल 2 लाख 50 हजार छात्रों को जेईई एडवांस के लिए शार्टलिस्ट किया जाएगा। जिसके बाद वे जेईई एडवांस की परीक्षा में बैठ पाएंगे। जेईई एडवांस के ज़रिए ही छात्रों को आईआईटी में दाखिल मिलता है। 

दूसरी तरफ परीक्षा आयोजित कराने वाली एजेंसी NTA ने यह स्पष्ट कर दिया है कि जारी किया गया यह परिणाम ही अंतिम माना जाएगा। लिहाज़ा रिचेकिंग का कोई विकल्प अभ्यर्थियों के पास नहीं है। जेईई मेन में छात्रों के लिए अवसर बढ़ाने के उद्देश्य से इस वर्ष से परीक्षा को चार चरणों में आयोजित किया गया था। पहला चरण फरवरी और दूसरा चरण मार्च में आयोजित किया गया। 

लेकिन अप्रैल में कोरोना की दूसरी लहर आने के कारण जेईई मेन की परीक्षा स्थगित कर दी गई। इसके बाद तीसरा चरण 20 से 25 जुलाई तक आयोजित किया गया। वहीं चौथे चरण का आयोजन 26 अगस्त से दो सितंबर तक किया गया।