महंगाई पर कांग्रेस का हल्लाबोल, रामलीला मैदान से राहुल गांधी भरेंगे हुंकार, दिल्ली में जुटे लाखों कार्यकर्ता

महंगाई के खिलाफ कांग्रेस रविवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में एक बड़ी रैली करने जा रही है। कांग्रेस का दावा है कि महंगाई की मार झेल रही आम जनता इस रैली में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेगी और इतनी भीड़ होगी कि रामलीला मैदान छोटा पड़ जाएगा।

Updated: Sep 04, 2022, 12:25 PM IST

महंगाई पर कांग्रेस का हल्लाबोल, रामलीला मैदान से राहुल गांधी भरेंगे हुंकार, दिल्ली में जुटे लाखों कार्यकर्ता

नई दिल्ली। दिल्ली के रामलीला मैदान ने देश की राजनीति को कई बार नई दिशा दी है। आज इस ऐतिहासिक मैदान में कांग्रेस महंगाई के विरुद्ध महारैली करने वाली है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी रामलीला मैदान से केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ बिगुल फूकेंगे। कांग्रेस की ओर से यह रैली 2024 चुनाव से पहले शक्ति प्रदर्शन की तरह भी है। इस रैली को लेकर कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल का दावा है कि रैली में इतने लोग जुटेंगे कि रामलीला मैदान छोटा पड़ जाएगा।

रविवार की रैली से पहले कांग्रेस ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इसमें कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि देशभर से लाखों पार्टी कार्यकर्ता और नेता इस रैली में हिस्सा लेंगे। साल 2021 के बाद से कांग्रेस लगातार महंगाई के मसले पर विरोध जता रही है। हम लगातार लड़ रहे हैं। हमने देशभर में बंद बुलाया, सड़कों पर प्रदर्शन किया। राहुल गांधी कल देश को संबोधित करेंगे। उसके बाद हम यात्रा शुरू करेंगे। महंगाई के खिलाफ ये देश में अब तक की सबसे बड़ी रैली होगी।

कांग्रेस की हल्ला बोल रैली के मद्देनजर दिल्ली के रामलीला मैदान और उसके आसपास सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। दिल्ली पुलिस ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्रैफिक एडवाइजरी जारी कर यात्रियों को रविवार को क्षेत्र के बंद रहने की चेतावनी दी है। पुलिस के अनुसार रैली स्थल पर स्थानीय पुलिस के साथ अर्धसैनिक बलों को तैनाती की जाएगी और मैदान के प्रवेश बिंदुओं पर मेटल डिटेक्टर भी लगाए जाएंगे।

कांग्रेस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, रैली से ठीक पहले सुबह करीब 11 बजे पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मुख्यालय में एकत्रित होंगे। यहां ये सभी बसों में बैठकर रामलीला मैदान के लिए निकलेंगे। राहुल के दोपहर करीब 1 बजे तक रैली में पहुंचने की संभावना है।

इस रैली के बाद कांग्रेस कार्यकर्ता देशव्यापी भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों में जुट जाएंगे। सात सितंबर से कन्याकुमारी से कश्मीर तक विपक्षी पार्टी 3,500 किलोमीटर की ‘‘भारत जोड़ो यात्रा’’ शुरू करने जा रही है, जहां राहुल गांधी देश भर में यात्रा कर महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दों पर जोर देंगे और सांप्रदायिक सद्भाव को बढ़ावा देंगे। ‘‘भारत जोड़ो यात्रा’’ कांग्रेस पार्टी का अब तक का सबसे बड़ा जनसंपर्क कार्यक्रम है, जहां पार्टी के नेता जमीनी स्तर पर आम लोगों तक पहुंचेंगे।