Covaxin फेज 3 ट्रायल का फाइनल डेटा जारी, भारत बॉयोटेक का दावा 77.8 फीसदी प्रभावी है टीका

भारत बायोटेक का दावा है कि कोरोना वायरस के डेल्टा वैरिएंट पर भी यब टीका 65.2 फीसदी असरदार है, कंपनी ने 130 लोगों पर यह ट्रायल किया है

Updated: Jul 03, 2021, 10:52 AM IST

Covaxin फेज 3 ट्रायल का फाइनल डेटा जारी, भारत बॉयोटेक का दावा 77.8 फीसदी प्रभावी है टीका
Photo Courtesy: Tribune India

नई दिल्ली। भारत की देसी वैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बॉयोटेक ने कोवैक्सीन के फेज 3 ट्रायल को अब जाकर पूरा किया है। फेज 3 ट्रायल के पूरा होने के बाद कंपनी ने ट्रायल का फाइनल डेटा भी जारी कर दिया है। कंपनी का दावा है कि उसकी वैक्सीन 77.8 फीसदी असरदार है।

हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक ने बयान जारी कर कहा कि उसने कोवैक्सीन के लिए फाइनल फेज- 3 के डेटा का विश्लेषण कर लिया है। इसमें कोवैक्सीन कोरोना के गंभीर मरीजों और डेल्टा वेरिएंट से संक्रमित मरीजों पर असरदार पाई गई है। इतना ही नहीं कंपनी ने यह भी दावा किया है कि कोरोना की अन्य वैक्सीन की तुलना में इस कोवैक्सीन में हानिकारक साइड इफेक्ट्स बेहद कम देखे गए हैं।

भारत बायोटेक ने शनिवार को कोवैक्सीन के  के तीसरे चरण के ट्रायल से सुरक्षा और प्रभावकारिता विश्लेषण डेटा की घोषणा की है। कंपनी ने 130 कोविड-19 के पुष्ट मरीजों पर ट्रायल के बाद दावा किया कि यह वैक्सीन कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीन 77.8 प्रतिशत कारगर है। कोरोना के नए डेल्टा वैरिएंट की बात की जाए तो उसके खिलाफ यह 65.2 फीसदी सुरक्षा प्रदान करता है। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में सियासी संकट, सीएम ने देर रात राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा, विधायक दल की बैठक आज

भारत बायोटेक ने तो यहां तक दावा किया है कि कोरोना के गंभीर मामलों पर यह वैक्सीन 93.4 फीसदी कारगर है। भारत बायोटेक का कहना है कि कोवैक्सीन पहली ऐसी वैक्सीन है, जिसने qPCR टेस्टिंग के आधार पर बगैर लक्षणों वाले संक्रमण के खिलाफ बेहतर नतीजे दिए हैं। कंपनी अब WHO द्वारा आपात इस्तेमाल की सूची में जगह बनाने की कोशिशें कर रही है।