Google Paytm Summoned: डेटा सुरक्षा को लेकर संसदीय समिति के सामने गूगल और पेटीएम की पेशी

डेटा सुरक्षा विधयेक के संबंध में संसदीय समिति कर रही है सलाह-मशविरा, इस विधेयक के कानून बन जाने पर सरकार को सोशल मीडिया कंपनियों से किसी का भी निजी डेटा लेने का अधिकार होगा

Updated: Oct 29, 2020, 08:06 PM IST

Google Paytm Summoned: डेटा सुरक्षा को लेकर संसदीय समिति के सामने गूगल और पेटीएम की पेशी
Photo Courtesy: Indian Express

नई दिल्ली। डेटा सुरक्षा पर संसद की संयुक्त समिति ने गूगल और पेटीएम के अधिकारियों को समन भेजा है। ये अधिकारी आज समिति के सामने पेश होंगे। डेटा सुरक्षा विधेयक, 2019 पर कांग्रेस ने अपनी आपत्ति जताई है, जिसके चलते संसदीय समिति सभी हितधारकों से बातचीत कर रही है। बताया जा रहा है कि इस बैठक में अधिकारियों को मौखिक सबूत देने होंगे। 

इससे पहले समिति फेसबुक और ट्विटर के अधिकारियों को भी बुला चुकी है। समिति ने फेसबुक इंडिया पॉलिसी हेड के पद से इस्तीफा दे चुकीं आंखी दास से भी पूछताछ की थी। वहीं लद्दाख को चीन का हिस्सा दिखाने के लिए ट्विटर की फटकार लगाई। ऑनलाइन रिटेल जायंट अमेज़न के अधिकारी भी समिति के सामने पेश हो चुके हैं। इन अधिकारियों ने भी समिति के सामने अपने बयान दर्ज कराए। हालांकि, पहले अमेजन के अधिकारियों ने समिति के सामने पेश होने से मना कर दिया था। 

पिछले साल इस विधयेक को पेश करते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि इससे सरकार को सोशल मीडिया कंपनियों से यूजरों का डाटा हासिल करने की शक्ति मिल जाएगी। लेकिन दूसरी तरफ यूजरों के व्यक्तिगत डेटा को सरकार द्वारा हासिल करने को लेकर चिंता जताई गई। राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े हितों में इस तरह के डेटा के प्रयोग को लेकर कांग्रेस ने चिंता जताई थी।