भारत जोड़ो यात्रा को गांव-गांव तक पहुंचाने की तैयारी, दिग्विजय सिंह ने कोल्हापुर में 13 LED वैन को किया रवाना

LED स्क्रीन लगे वाहनों पर होगी भारत जोड़ो यात्रा की लाइव स्ट्रीमिंग, महाराष्ट्र के 1250 गांवों तक पहुंचने का लक्ष्य, दिग्विजय सिंह बोले- हम साहूजी महाराज के दिखाए रास्ते पर आगे बढ़ रहे हैं

Updated: Oct 09, 2022, 10:25 AM IST

भारत जोड़ो यात्रा को गांव-गांव तक पहुंचाने की तैयारी, दिग्विजय सिंह ने कोल्हापुर में 13 LED वैन को किया रवाना

कोल्हापुर। कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा देशभर में सुर्खियां बटोर रही है। लाखों की संख्या में लोग प्रतिदिन इस यात्रा से जुड़ रहे हैं। अब कांग्रेस इस यात्रा को गांव-गांव तक पहुंचाने की तैयारी में जुट गई है। भारत जोड़ो यात्रा आयोजन समिति के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह ने शनिवार को महाराष्ट्र के कोल्हापुर में 13 विशेष LED वैन का शुभारंभ किया।

कोल्हापुर से कांग्रेस विधायक व पूर्व मंत्री सतेज एलियास बंटी ने इन एलईडी वाहनों को दिग्विजय सिंह की मौजूदगी में भारत जोड़ो यात्रा को समर्पित किया। इन वाहनों पर विशेष स्क्रीन लगाए गए हैं, जिनमें भारत जोड़ो यात्रा की लाइव स्ट्रीमिंग की जाएगी। ये वाहन राज्य के 1250 गांवों में जाएंगे और लोगों को भारत जोड़ो यात्रा और उसके उद्देश्य को लेकर जागरूक करेंगे।

कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि, 'साहूजी महाराज 100 साल पहले जो रास्ता दिखा गए, हम उसी प्रेरणा को लेकर आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने 100 साल पहले दलित और पिछड़ों को स्टेट सर्विसेज़ में आरक्षण दिया था। और सभी धर्मों के लोगों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए भूमि और संसाधन उपलब्ध कराए। ग़ैर ब्राह्मणों को वेद की शिक्षा के लिए प्रोत्साहित किया।' बता दें कि कोल्हापुर साहू महाराज की रियासत रही है। आरएसएस उनका विरोध करती रही है लेकिन कांग्रेस उन्हें महान क्रांतिकारी और प्रेरक शक्ति मानती है।

दिग्विजय सिंह ने आगे कहा कि, 'किसी को उम्मीद नहीं थी कांग्रेस के लोग 3600 किमी पैदल चलेंगे। किसी को उम्मीद नहीं थी राहुल गांधी पैदल चलेंगे। जिस तरह से मीडिया के माध्यम से राहुल गांधी की छवि बिगाड़ी गई थी आज राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा में पैदल चलकर सालों तक जो छवि बिगाड़ी गई उसे एक महीने में परिवर्तित कर दिया। आज देश में धर्म के नाम पर उन्माद फैलाया जा रहा है, नफरत फैलाई जा रही है, हिंसा फैलाई जा रही है। आज भारतीय संविधान खतरे में है।'

यह भी पढ़ें: राजस्थान सरकार ने यदि अडानी को गलत तरीके से बिजनेस दिया तो मैं इसके खिलाफ हूं: राहुल गांधी

सिंह ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि 
एक महीने में भारत जोड़ो यात्रा का इतना असर पड़ा की मोहन भागवत मस्जिद और मदरसों में जाने लगे। बाबा रामदेव जो कांग्रेस का आलोचना करता था अब वो तारीफ करने लगा है। समय बदल रहा है और वेलिग भी इसे पहचान रहे हैं। उन्होंने कहा कि ये देश सबका है। हम हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई बाद में हैं पहले हम भारतीय हैं। इसी उद्देश्य के साथ भारत जोड़ो यात्रा निकाली जा रही है।

बता दें कि भारत जोड़ो ने आज दूसरे महीने में कदम रखा है। रविवार सुबह कर्नाटक के तुमकुर जिले के तिप्तूर से पदयात्रियों ने मार्च शुरू किया। इस यात्रा को गैर राजनीतिक संगठन और नागरिक समूहों का भी भरपूर समर्थन मिल रहा है। जैसे-जैसे यह पदयात्रा आगे बढ़ रही है, हजारों की संख्या में लोग इससे जुड़ते जा रहे हैं। बच्चे, बूढ़े, जवान, छात्र-छात्राएं सभी इस यात्रा में शामिल हो रहे हैं। पदयात्रा को लेकर देशवासियों में उत्साह इस यात्रा की सार्थकता को बयां कर रहा है।