Covid-19 को प्राकृतिक आपदा घोषित करे सरकार, महाराष्ट्र सीएम ने प्रधानमंत्री से की मांग

महाराष्ट्र में 30 अप्रैल तक 12 लाख एक्टिव केस होने की संभावना, सीएम ठाकरे ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, 2000 मीट्रिक टन ऑक्सीजन देने की भी मांग

Publish: Apr 15, 2021, 06:06 PM IST

Covid-19 को प्राकृतिक आपदा घोषित करे सरकार, महाराष्ट्र सीएम ने प्रधानमंत्री से की मांग
Photo Courtesy: India Today

मुंबई। देश में कोरोना हॉटस्पॉट बन चुके महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि राज्य में इस महीने के अंत तक करीब 12 लाख एक्टिव कोरोना केस हो जाएंगे। सीएम ठाकरे ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर केंद्र से इस आपात स्थिति में मदद की मांग की है। सीएम ठाकरे ने केंद्र से कहा है कि कोरोना को अब प्राकृतिक आपदा घोषित किया जाए। साथ ही उन्होंने महाराष्ट्र को 2000 मीट्रिक टन ऑक्सीजन आपूर्ति में भी मदद मांगी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित पत्र में महाराष्ट्र सीएम ने लिखा, 'जैसा कि आप जानते हैं, सितंबर 2020 के दौरान पूरे देश में साढ़े दस लाख कोरोना के एक्टिव केस थे। वर्तमान स्थिति को देखते हुए यह अनुमान लगाया जा सकता है कि आने वाले समय में अकेले महाराष्ट्र में इस महीने के अंत तक 11 लाख 90 हजार एक्टिव केस हो सकते हैं।'

प्रधानमंत्री को लिखी चिठ्ठी में उन्होंने लिखा है कि केंद्र सरकार को कोरोना महामारी को प्राकृतिक आपदा घोषित करने पर विचार करना चाहिए। सीएम ठाकरे के इस मांग के पीछे तर्क यह है कि एक बार यदि कोरोना प्राकृतिक आपदा घोषित हो जाएगा तो राज्य सरकारें राज्य प्राकृतिक आपदा कोष (SDRF) का उपयोग कोरोना प्रभावितों को आर्थिक मदद के लिए कर सकते हैं। चूंकि सभी राज्य आपदा प्रबंधन अधिनियम केंद्रीय आपदा प्रबंधन कानून के हिस्से के रूप में बनाए गए हैं। ऐसे में राज्यों को इस निधि का उपयोग करने से पहले केंद्र सरकार से अनुमति लेनी होती है।

सीएम ठाकरे ने महाराष्ट्र में बढ़ रहे केस को लेकर केंद्र सरकार से दो हजार मीट्रिक टन ऑक्सीजन की मांग को पूरा करने में भी केंद्र से मदद मांगी है। राज्य सरकार वर्तमान में 1,200 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का निर्माण कर रही है, लेकिन इस महीने के अंत तक डिमांड बढ़कर 2000 मीट्रिक टन होने का अनुमान है। सीएम ठाकरे ने पत्र में यह भी लिखा है कि रेमडेसीवीर इंजेक्शन की आपूर्ति के लिए भी जल्द ही अनिवार्य लाइसेंस जारी करे।

गौरतलब है कि देशभर में महाराष्ट्र कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित राज्य है। यहां हर दिन सैंकड़ों लोग कोरोना से जान गंवा रहे हैं। फिलहाल महाराष्ट्र में 5.64 लाख कोरोना के सक्रिय मामले हैं जो पिछले साल सितंबर में पीक से तकरीबन 88 फीसदी ज्यादा है। बुधवार को ही महाराष्ट्र में 58 हजार 952 नए मामले दर्ज किए गए हैं वहीं एक दिन में 278 मरीजों की मौत हुई है। राज्यभर में अबतक कोरोना महामारी से 58 हजार 804 लोगों ने दम तोड़ा है।