नवाब मलिक के दामाद पर आरोप लगाकर बुरे फंसे देवेंद्र फडणवीस, मलिक की बेटी ने भेजा कानूनी नोटिस

देवेंद्र फडणवीस को नवाब मलिक की बेटी नीलोफर मालिक ने कानूनी नोटिस भेजा है, और पांच करोड़ रुपए के हर्जाने की मांग की है, देवेंद्र फडणवीस ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान नवाब मलिक के दामाद समीर खान पर झूठे आरोप लगाए थे

Updated: Nov 11, 2021, 02:43 PM IST

नवाब मलिक के दामाद पर आरोप लगाकर बुरे फंसे देवेंद्र फडणवीस, मलिक की बेटी ने भेजा कानूनी नोटिस

मुंबई। नवाब मलिक के दामाद समीर खान पर आरोप लगाना पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को भारी पड़ गया है। नवाब मलिक की बेटी नीलोफर मालिक ने देवेंद्र फडणवीस को कानूनी नोटिस भेज दिया है। नीलोफर ने देवेंद्र फडणवीस को भेजे नोटिस में पांच करोड़ रुपए के हर्जाने की भी मांग की है। देवेंद्र फडणवीस को भेजे गए कानूनी नोटिस को खुद नीलोफर ने अपने ट्विटर हैंडल पर साझा किया है। 

पूर्व सीएम को भेजे गए कानूनी नोटिस में कहा गया है कि आखिर किस आधार पर देवेंद्र फडणवीस ने समीर खान(नवाब मलिक के दामाद) पर ड्रग्स रखने का मनगढ़ंत आरोप लगाया? जबकि इस पूरे मामले की जांच इस समय जारी है। खुद एनसीबी द्वारा दायर किए गए आरोप पत्र में इस बात का स्पष्ट तौर पर उल्लेख है कि एनसीबी को समीर खान के घर से किसी तरह के संदिग्ध पदार्थ की बरामदगी नहीं की गई थी। 

नीलोफर मालिक ने पूर्व सीएम से अपने बयान पर माफी मांगने की मांग की है। अगर भाजपा नेता अपने आरोपों को लेकर माफी नहीं मांगते हैं तो उन्हें मानहानि का मुकदमा भी झेलना पड़ सकता है। मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने समीर खान के घर से ड्रग्स बरामद होने की बात कही थी। खुद नवाब मलिक ने भी आज प्रेस कॉन्फ्रेंस के ज़रिए देवेंद्र फडणवीस को अपने बयान के लिए माफी मांगने के लिए कहा है। 

पवार साहब और सीएम उद्धव ठाकरे मेरे साथ हैं: नवाब मलिक

नवाब मलिक ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि ड्रग्स के खिलाफ शुरू की गई मेरी इस लड़ाई को लेकर बीजेपी कहती थी कि नवाब मलिक इस लड़ाई में अकेले हैं।लेकिन बीजेपी के दावों के विपरीत हकीकत यही है कि पवार साहब(शरद पवार) और सीएम उद्धव ठाकरे दोनों का ही समर्थन मुझे हासिल है। 

नवाब मलिक ने द्वारका में पकड़ी गई 350 करोड़ के ड्रग्स को लेकर भी टिप्पणी की। नवाब मलिक ने कहा कि आखिर ड्रग्स गुजरात में ही क्यों पकड़ी जा रही है? कहीं गुजरात से ही तो नशे का सारा खेल नहीं खेला जा रहा है? नवाब मलिक ने आर्यन खान मामले का उदाहरण देते हुए कहा कि गोसावी और सुनील पाटिल भी गुजरात जाते रहते थे। मलिक ने कहा कि गुजरात सरकार में एक मंत्री से इन लोगों के संबंध भी हैं।