मनी लॉन्ड्रिंग केस में शिवसेना सांसद संजय राउत को मिली जमानत, भारत जोड़ो यात्रा में हो सकते हैं शामिल

संजय राउत की गिरफ्तारी पात्रा चॉल लैंड स्कैम केस में हुई थी। विपरीत परिस्थितियों में कांग्रेस राउत के साथ खड़ी थी और मुखरता से उनकी गिरफ्तारी का विरोध किया था। अब खबर आई है कि जेल से निकलकर राउत भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होंगे।

Updated: Nov 10, 2022, 09:02 AM IST

मनी लॉन्ड्रिंग केस में शिवसेना सांसद संजय राउत को मिली जमानत, भारत जोड़ो यात्रा में हो सकते हैं शामिल

मुंबई। शिवसेना सांसद संजय राउत को जमानत मिल गई है। बुधवार को उन्हें PMLA कोर्ट  ने जमानत दे दी है। संजय राउत को पात्रा चॉल भूमि घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में तीन महीने से ज्यादा समय से जेल में बंद थे। खबर है कि जेल से आने के बाद राउत भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होंगे।

कोर्ट ने 21 अक्टूबर को जमानत याचिका पर दोनों तरफ की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था। बुधवार को कोर्ट ने जैसे ही संजय राउत को जमानत का ऐलान किया, उनके समर्थकों ने तालियां बजाईं। जमानत की खबर मिलते ही पूरे महाराष्ट्र में शिवसैनिकों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें: आर्थिक सुधारों के लिए मनमोहन सिंह का ऋणी है देश, गडकरी ने की पूर्व पीएम की जमकर तारीफ

रिपोर्ट्स के मुताबिक संजय राऊत को 2 लाख के मुचलके पर जमानत दी गई है। वहीं, एडिशनल सॉलिसिटर जनरल ने ने फैसले पर स्टे की मांग की है। उन्होंने कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील करने के लिए समय मांगा है। इस मामले में अब 3 बजे सुनवाई होगी।

बता दें कि ईडी ने पात्रा चॉल लैंड स्कैम केस में 1 अगस्त को उन्हें गिरफ्तार किया था। ये गिरफ्तारी तब हुई जब थोड़े ही दिन पहले महाराष्ट्र में महाआघाड़ी सरकार को गिरा दिया गया। संजय राउत सरकार बचाने की कोशिश कर रहे थे। उन्होंने आरोप लगाया था बीजेपी केंद्रीय जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर राज्यों में चुनी हुई सरकार को अस्थिर करती है। राउत की गिरफ्तारी के खिलाफ कांग्रेस नेताओं ने भी कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। ऐसे में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा जब महाराष्ट्र में है, तो माना जा रहा है कि राउत इस यात्रा में जरूर शामिल होंगे।