पेगासस जासूसी कांड पर फिर टली सुनवाई, केंद्र ने नहीं दायर किया हलफनामा

सुप्रीम कोर्ट में आज केंद्र सरकार को पेगासस जासूसी कांड में हलफनामा दायर करना था, लेकिन सरकार ने आज कोर्ट में हलफनामा दायर नहीं किया, इसलिए कोर्ट ने 13 सितंबर तक के लिए सुनवाई को टाल दिया

Publish: Sep 07, 2021, 02:49 PM IST

पेगासस जासूसी कांड पर फिर टली सुनवाई, केंद्र ने नहीं दायर किया हलफनामा

नई दिल्ली। पेगासस जासूसी कांड पर फिर एक बार सुनवाई टल गई है। केंद्र सरकार द्वारा कोर्ट में हलफनामा दायर न किए जाने के बाद मामले की सुनवाई अब अगले हफ्ते तक के लिए टाल दी गई है। पेगासस जासूसी कांड के मामले में अब अगली सुनवाई 13 सितंबर को होगी। 

केंद्र सरकार को आज पेगासस जासूसी कांड के मसले पर सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर करना था। लेकिन केंद्र की तरफ से कोर्ट में पेश हुए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने मामले की सुनवाई कर रही चीफ जस्टिस रमन्ना की बेंच से कहा कि सरकार को हलफनामा दायर करने के लिए थोड़ा और समय चाहिए। जिसके बाद कोर्ट ने केंद्र को 13 सितंबर तक का समय दे दिया। 

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी करते हुए कहा था कि सरकार इस बिंदु पर विचार करे कि वह कोर्ट को कुछ बताएगी या नहीं? तुषार मेहता ने कोर्ट से कहा था कि राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर सरकार हर चीज सार्वजनिक नहीं कर सकती। जिसका याचिकाकर्ताओं ने विरोध किया था। 

सुप्रीम कोर्ट में सीजेआई की अगुवाई वाली तीन सदस्यीय बेंच इस पूरे मामले की सुनवाई कर रही है। सीजेआई रमन्ना के अलावा इस बेंच में जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस अनिरुद्ध बोस शामिल हैं। सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठ पत्रकार एन राम सहित दाखिल अन्य याचिकाओं पर सुनवाई हो रही है। एन राम ने पेगासस जासूसी कांड में निष्पक्ष जांच की मांग की है। कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में एन राम का पक्ष रख रहे हैं।