UP: दलित बच्ची से गैंगरेप, आंखें निकालीं, जीभ काट दी

Dalit Girl Rape: आरोपी के खेत में मिला था 13 साल की बच्ची का शव, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची के साथ रेप की पुष्टि हुई है

Updated: Aug 16, 2020 06:01 PM IST

UP: दलित बच्ची से गैंगरेप, आंखें निकालीं, जीभ काट दी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। लखीमपुर खीरी में 13 साल की दलित बच्ची के साथ गैंगरेप किया गया। रेप के बाद उसकी आंखें फोड़ दी गई। उसकी जीभ काट दी और उसके गले में फंदे डालकर उसे खेतों में घसीटा गया। हालाँकि पुलिस ने आँखें फोड़ने और जीभ काटने के आरोप से इंकार किया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार लखीमपुर खीरी जिले में ईसानगर थाना क्षेत्र के पकरिया गांव की रहने वाली 13 साल की बच्ची 14 अगस्त को दोपहर करीब एक बजे अपने घर से शौच के लिए खेतों की तरफ गई थी। वह देर रात तक घर नहीं लौटी तो परिजनों ने बच्ची की तलाश शुरू कर दी। पुलिस ने खोज की तो गन्ने के खेत में बच्ची का शव बरामद हुआ।
परिवालों ने गांव के ही रहने वाले संतोष यादव और संजय गौतम पर रेप और हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस ने दोनों युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज गिरफ्तार कर लिया है। 

लखीमपुर खीरी के एसपी सत्येंद्र कुमार ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची के साथ रेप की पुष्टि हुई है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बच्ची के पिता का कहना है कि लड़की का शव जिस खेत में मिला, वह आरोपियों में एक का है। उन्होंने बताया कि  हम लोगों ने उसे सब तरफ ढूंढा। गन्ने के खेत में उसकी लाश मिली। उसकी आंखें निकली हुई थीं। उसकी जुबान कटी हुई थी और दुपट्टे से उसका गला घोंटा हुआ था। इस पर पुलिस ने आँखें  बाहर आने और जीभ काटे जाने के पिता के दावे को खारिज किया है।लखीमपुर खीरी के एसपी सत्येंद्र कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में केवल रेप की पुष्टि हुई है। दो आरोपियों के खिलाफ बलात्कार, हत्या और नेशनल सिक्योरिटी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।