उड़ने को तैयार है दुनिया की पहली इलेक्ट्रिक फ्लाइंग रेस कार

फ्लाइंग रेसिंग कार को जीरो से 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ने में लगतें है 2.8 सेकंड, 500 मीटर की ऊंचाई तक उड़ सकती है फ्लाइंग कार, 130 किलो की कार रिमोट से चलेगी

Updated: May 23, 2021, 02:44 PM IST

उड़ने को तैयार है दुनिया की पहली इलेक्ट्रिक फ्लाइंग रेस कार
Photo courtesy: sUAS News

एयरस्पीडर ने Mk3 रेसिंग कार तैयार की है। यह फ्लाइंग कार रिमोट से चलेगी। यह पहला मौका है जब दुनिया में फुल-स्केल और फंक्शनल इलेक्ट्रिक फ्लाइंग रेसिंग कार सामने आई है। ये कार वेरिएंट साउथ ऑस्ट्रेलिया के एडिलेड में गेमिंग के टेक्नोलॉजी हेडऑफिस में तैयार हो रही है।

इस फ्लाइंग रेसिंग कार के स्पेसिफिकेशन के बारे में एयरस्पीडर ने जानकारी दी है। Alauda Aeronautics, Airspeeder की सिस्टर-कंपनी है। यह अगले महीनों में तीन महाद्वीपों पर होने वाली रेस के लिए दस रेसिंग कार का निर्माण कर रही है।  

एमके3 रिमोट से चलने वाली इलेक्ट्रिक फ्लाइंग रेसिंग कार है, जो कि ऑडी एसक्यू 7 परफॉर्मेंस एसयूवी के बराबर 320 किलोवाट का अधिकतम पावर देने में सक्षम है। एक एयरस्पीडर रेसिंग क्राफ्ट का वजह मजह 130 किलो है। यह वजन बिना पायलट के है। यह  80 किग्रा तक का वजन लेकर उड़ सकती है। इसे जीरो से 100 किलो मीटर की रफ्तार पकड़ने में केवल 2.8 सेकंड का समय लगेगा । यह कार 500 मीटर की ऊंचाई तक उड़ सकेगी।

ऑडी का वजन 2,500 किलोग्राम होता है वहीं एयरस्पीडर रेसिंग क्राफ्ट केवल 130 किलो की होती है। यह दुनिया के सबसे एडवासं लड़ाकू विमानों की तकनीक के उपयोग से बनाई गई है। ऑक्टोकॉप्टर प्रीव्यू के माध्यम से पाई गई स्पीड के मुकाबले फॉर्मूला वन कार से की गई है, जो 5G टेक्नोलॉजी को सपोर्ट करती है।

विश्व की पहली इलेक्ट्रिक फ्लाइंग रेसिंग कार, हेड ऑफ़ डिज़ाइन और रॉयल एकेडमी ऑफ़ आर्ट ग्रेजुएट के रूप में, फ़ेलिक्स पियरॉन की F1 कार, एक फाइटर जेट और हेलीकॉप्टर को लीड करती है। इस फ्लाइंग कार में पायलट उसी तरह से कॉकपिट में बैठेगा जैसे एक ड्राइवर को लेटेस्ट फॉर्मूला वन रेसिंग कार में बैठाया जाता है।

अपने तरह की अनोखी इस रेसिंग फ्लाइंग कार के बाद अब लोगों की उम्मीदें बढ़ गई हैं, लोग अपनी फ्लाइंग कार का सपना देखने लगे हैं। वो दिन दूर नहीं जब लोगों के पास अपनी फ्लाइंग कार होगी, यह कार सड़कों पर लगने वाले जाम और समय की बरबादी से छुटकारा दिलाएगी। अगर सब कुछ ठीक रहा तो लोग पेट्रोल, डीजल को छोड़कर इलेक्ट्रिक कार की ओर रुख करेंगे। कार भी ऐसी जो आपका घंटों का सफर मिनटों में पूरा कर देगी।