JP Nadda: सीमा पर तनाव और कांग्रेस से सवाल

BJP President : 130 करोड़ देशवासी जानना चाहते हैं कि कांग्रेस ने सत्ता में रहते हुए क्या-क्या काम किया

Publish: Jun 28, 2020 02:41 AM IST

JP Nadda:  सीमा पर तनाव और कांग्रेस से सवाल

सीमा पर चीन के साथ जारी विवाद के बीच बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शनिवार को एक बार फिर से राजीव गांधी फाउंडेशन (आरजीएफ) पर सवाल खड़ा किए हैं। उन्होंने आरजीएफ पर मेहुल चौकसे से फंड प्राप्त करने का आरोप लगाते हुए पूछा है कि चौकसे और आरजीएफ के बीच क्या संबंध है?

बीजेपी अध्यक्ष नड्डा ने प्रेस से चर्चा के दौरान कहा, 130 करोड़ देशवासी जानना चाहते हैं कि कांग्रेस ने सत्ता में रहते हुए क्या-क्या काम किया और किस तरह से आपने देश के साथ विश्वासघात किया है।

शनिवार सुबह पूर्व गृह मंत्री व वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने आरजीएफ मामले पर ट्वीट कर असलियत बताई थी। इसके बाद बीजेपी चीफ ने एक बार फिर से कांग्रेस पर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा, 'कुछ दिन पहले ट्वीट करके राजीव गांधी फाउंडेशन पर प्रश्न उठाए थे, आज पी. चिदंबरम कहते हैं कि फाउंडेशन पैसे लौटा देगा। देश के पूर्व वित्त मंत्री जो खुद बेल पर हों, उसके द्वारा ये स्वीकारना होगा कि देश के अहित में फाउंडेशन ने नियम की अवहेलना करते हुए फंड लिया। पीएम नेशनल रिलीफ फंड जो लोगों की सेवा और उनको राहत पहुंचाने के लिए है, उससे 2005-08 तक राजीव गांधी फाउंडेशन को पैसा क्यों गया? हमारे देश की जनता इसका जवाब जानना चाहती है।'

नड्डा ने आगे कहा कि सोनिया गांधी कोरोना या चीन की स्थिति के कारण मूल प्रश्नों के जवाब देने से बच नहीं सकती है। बकौल बीजेपी चीफ भारत के लोग जानना चाहते हैं कि राजीव गांधी फाउंडेशन के सीएजी ऑडिटिंग के लिए मना क्यों किया? आरटीआई लागू क्यों नहीं हुआ? राजीव गांधी फॉउंडेशन का ऑडिटर कौन है? उन्होंने आरोप लगाया कि आरजीएफ ने मेहुल चोकसी से पैसा लिया और बदले में उसे लोन दिया गया।