विराट कोहली पर फिलहाल एक्शन नहीं लेगी BCCI, टेस्ट सीरीज की समाप्ति का इंतज़ार

बोर्ड के अधिकारियों ने गुरुवार को की थी ज़ूम मीटिंग, गांगुली और जय शाह भी थे मीटिंग में मौजूद

Publish: Dec 17, 2021, 09:18 AM IST

विराट कोहली पर फिलहाल एक्शन नहीं लेगी BCCI, टेस्ट सीरीज की समाप्ति का इंतज़ार

नई दिल्ली। विराट कोहली और बीसीसीआई में जारी तकरार के बीच अब यह दावा किया जाने लगा है कि अध्यक्ष सौरव गांगुली के खिलाफ मीडिया में दिए गए बयान के बाद अब क्रिकेट बोर्ड विराट कोहली के खिलाफ एक्शन लेने की तैयारी कर रहा है। हालांकि इसके लिए क्रिकेट बोर्ड दक्षिण अफ्रीका की टेस्ट सीरीज समाप्त होने का इंतजार कर रहा है। 

मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से दावा किया का रहा है कि बीसीसीआई फिलहाल विराट कोहली के खिलाफ एक्शन लेने के मूड में नहीं है। क्योंकि बोर्ड के किसी भी कदम से दक्षिण अफ्रीका में होने वाली टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया के खिलाड़ियों का मनोबल टूट सकता है। 

यह भी पढ़ें : मोदी से मुलाकात के बाद क्यों बदले बदले से हैं शिवराज

गुरुवार को बीसीसीआई के अधिकारियों की एक मीटिंग भी हुई थी। यह मीटिंग प्रमुख तौर पर मौजूदा विवाद से निपटने के लिए हुई थी। बोर्ड के अधिकारियों की यह मीटिंग जूम पर हुई थी, जिसमें बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और जय शाह दोनों मौजूद थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक मीटिंग में यह फैसला लिया गया है कि अब बोर्ड या बोर्ड का कोई भी अधिकारी सार्वजनिक बयान या प्रेस विज्ञप्ति जारी नहीं करेगा। बताया जा रहा है कि कोहली के बयान से बोर्ड का कोई भी अधिकारी खुश नहीं है। 

यह भी पढ़ें : विराट के दावे पर जवाब देने के लिए रणनीति तैयार कर रही है BCCI, गांगुली के खिलाफ दिया था बयान

गुरुवार को ही मीडिया ने जब बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से कोहली के बयान के बारे में पूछा था तब उन्होंने कहा था कि वे इस पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे। बोर्ड अपने तरीके से इस मामले से निपट लेगा। अब यह संभावना जताई जा रही है कि बोर्ड दक्षिण अफ्रीका सीरीज के बाद विराट कोहली पर कोई एक्शन ले सकता है। 

दरअसल यह सारा विवाद विराट कोहली की वनडे कप्तानी जाने के बाद से शुरू हुआ है। विराट कोहली को वनडे कप्तानी से हटाए जाने के बाद बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा था कि उन्होंने खुद विराट कोहली से टी ट्वेंटी की कप्तानी न छोड़ने के लिए कहा था। क्योंकि व्हाइट बॉल क्रिकेट में भारतीय टीम दो अलग अलग कप्तानों के साथ नहीं खेल सकती। जबकि दक्षिण अफ्रीका रवाना होने से पहले विराट कोहली ने मीडिया में यह कह दिया कि उन्हें कभी भी टी ट्वेंटी कप्तानी नहीं छोड़ने के लिए कहा ही नहीं गया। भारतीय क्रिकेट इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब बोर्ड के प्रेसिडेंट और कप्तान के बयानों में इतना विरोधाभास हो।