टोक्यो ऑलंपिक्स में क्वालिफाई करने वाली पहली भारतीय महिला तैराक बनीं माना पटेल, 100 मीटर बैक स्ट्रोक में लेंगी हिस्सा

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने आज सुबह माना के ऑलंपिक में क्वालिफाई करने की जानकारी दी, माना का चयन यूनिवर्सेलिटी कोटा से हुआ है, टोक्यो ऑलंपिक्स के लिए क्वालिफाई करने वाली माना तीसरी भारतीय तैराक हैं

Updated: Jul 02, 2021, 05:46 PM IST

टोक्यो ऑलंपिक्स में क्वालिफाई करने वाली पहली भारतीय महिला  तैराक बनीं माना पटेल, 100 मीटर बैक स्ट्रोक में लेंगी हिस्सा
Photo Courtesy : The New Indian Express

नई दिल्ली। बैकस्ट्रोक स्विमर माना पटेल टोक्यो ऑलंपिक्स के लिए क्वालिफाई करने वाली पहली भारतीय महिला तैराक बन गई हैं। खुद खेल मंत्री किरण रिजिजू ने आज सुबह अपने ट्विटर हैंडल पर माना के ऑलंपिक्स के लिए क्वालिफाई करने की सूचना दी। 

किरण रिजीजू ने अपने ट्विटर हैंडल पर ट्विट करते हुए कहा कि बैकस्ट्रोक स्विमर माना पटेल टोक्यो ऑलंपिक्स के लिए क्वालिफाई करने वाली पहली भारतीय महिला तैराक बन गई हैं। ऑलंपिक्स के लिए क्वालिफाई करने वाली माना तीसरी भारतीय तैराक हैं। रिजिजू ने आगे कहा कि मैं यूनिवर्सेलिटी कोटा से चयनित होने वाली माना को बधाई देता हूं। शाबाश।  

21 वर्षीय माना का चयन यूनिवर्सेलिटी कोटा से हुआ है। इस कोटे से एक देश की किसी एक महिला या पुरुष को ऑलंपिक्स में भाग लेने की अनिमति देता है। माना पटेल टोक्यो ऑलंपिक्स में क्वालिफाई करने वालीं भारत की तीसरी तैराक हैं। माना से पहले साजन प्रकाश 200 मीटर बटरफ्लाई और श्री हरी नटराज ने 100 मीटर बैकस्ट्रोक में प्रवेश किया है।    

माना दो साल पहले चोटिल हो गई थीं। लेकिन कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन ने चोट से उबरने में काफी मदद की। चोट से ठीक होने के बाद माना ने इस साल अप्रैल महीने में उजबेकिस्तान में ओपन तैराकी चैम्पियनशिप में उन्होंने 100 मीटर बैकस्ट्रोक में स्वर्ण पदक हासिल किया।