जापान में हैं दुनिया की सबसे बुजुर्ग जुड़वा बहनें, 107 साल की बहनों का नाम गिनीज बुक में दर्ज

22 सितंबर को 107 साल 322 दिन है दोनों बहनों की उम्र, विश्वयुद्ध की साक्षी हैं उमेनो और कौमे, पॉजिटिव सोच और टेंशन फ्री रहना है इनकी लंबी उम्र का राज

Updated: Sep 22, 2021, 05:49 PM IST

जापान में हैं दुनिया की सबसे बुजुर्ग जुड़वा बहनें, 107 साल की बहनों का नाम गिनीज बुक में दर्ज
Photo Courtesy: twitter

विश्व में जापानी लोग सबसे लंबी और हेल्दी लाइफ के लिए जाने जाते हैं। यही वजह है कि वहां अक्सर उम्र को लेकर रिकॉर्ड बनते और टूटते रहते हैं। सबसे बुजुर्ग महिला और पुरुष के बाद अब सबसे बुजुर्ग जुड़वा बहनों का नाम गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है। ये दोनों बहनें दुनिया की सबसे बुजुर्ग बहनें हैं। 1 सितंबर 2021 को इनकी उम्र 107 वर्ष और 330 दिन थी।

इनका बहनों का जन्म 5 नवंबर 1913 को पश्चिमी जापान के शोदोशिमा द्वीप पर हुआ था। इनके नाम उमेनो सुमियामा और कौमे कोडमा हैं। इनके 11 भाई-बहन हैं। ये तीसरे और चौथे नंबर की बहनें हैं। कुछ दिनों पहले ही उमेनो और कौमे ने एक रिकॉर्ड भी तोड़ा है। इनसे पहले दो अन्य जुड़वा बहनों किन नारिता और जिन केनी के नाम पर सबसे बुजुर्ग जुड़वा होने का रिकार्ड था, उनके 107 साल और 175 दिनों के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए उमेनो और कौमें आगे बढ़ती जा रही हैं। गिनीज बुक से मिली जानकारी के अनुसार जापानी वृद्ध दिवस के दिन इस अवार्ड की घोषणा की गई है। जापान में वृद्ध दिवस पर नेशनल होली डे होता है। 

जापानी लोग अपनी हेल्दी लाइफ स्टाइल और एडवांस स्वास्थ्य सुविधाओं की वजह से ज्यादा जीते हैं। कहा जाता है कि जापानी अपने खानपान का खास ख्याल रखते हैं वे भूख से 20 प्रतिशत कम खाना खाते हैं। सफाई, व्यायाम और नियमित दिनचर्या का पालन करते हैं। 22 सितंबर को ये दोनों बहनें 107 साल और 322 दिन हो गई हैं। इन जुड़वां बहनों के बारे में इनके परिजनों का कहना है कि ये दोनों बेहद पॉजिटिव सोच रखती हैं, इन्हें किसी बात की चिंता नहीं होती है। परिजनों की मानें तो उमेनो ज्यादा दृढ़ इच्छाशक्ति वाली हैं, वहीं कौमें सौम्य स्वभाव की हैं। इनकी पढ़ाई के बाद अलग-अलग स्थानों में इनकी शादी हुई। उमेनो शादी के बाद भी शोडो आइलैंड पर ही रहती थी, वहीं कौमे की शादी आइलैंड से बाहर के शख्स से हुई थी। ये दोनों विश्व युद्ध को काफी करीब से देख चुकी हैं। उन्हें याद है कि दूसरे विश्व युद्ध के दौरान उन्हें अपना घर बार छोड़कर भागना पड़ा था।

उमेनो ने बताया कि उनके इलाकों में हवाई हमलों से बचने के लिए आश्रय बना दिए गए थे। जब युद्ध खत्म हुआ और उनकी शादियां हुई तो ये दोनों अलग शहरों में बस गईं। दिन रात साथ रहने वाली बहनों के बीच 300 किलोमीटर का फासला हो गया था। वे उनदिनों सिर्फ शादी या किसी किसी पारिवारिक समारोह में ही मिलती थी। अब उनकी याददाशत कमजोर हो गई हैं, फिलहाल वे दोनों ओल्ड एज होम में रहती हैं। इन्हें अब ज्यादा कुछ याद नहीं है, लेकिन गिनीज में नाम दर्ज होने से उनकी फैमिली खुशी से फूली नहीं समा रही है।

इनसे पहले जापान के ही जिरोइमॉन किमूरा सबसे ज्यादा 116 साल लंबी जिंदगी जीने वाले शख्स बने थे। साल 2013 में जिरोइमॉन किमूरा का निधन हुआ था। वहीं महिलाओं में सबसे बुजुर्ग होने का रिकॉर्ड टानाका नाम की महिला ने बनाया है। वर्तमान में वे 118 साल की हैं। अब सबसे ज्यादा जीने वाली जुड़वा बहनों ने रिकॉर्ड बनाया है। सोशल मीडिया पर फैंस उनकी लंबी और स्वस्थ जिंदगी की दुआ कर रहे हैं।