BJP China Visit : चीन की कम्‍युनिस्‍ट पार्टी से 'राजनीतिक दोस्‍ती'

कम्‍युनिस्‍ट पार्टी नेताओं से मिलने बीजेपी का काडर स्‍टडी ग्रुप गया था चीन, कम्‍युनिस्‍ट नेताओं के साथ बयान जारी किया

Updated: Jun-29, 2020, 07:19 PM IST

BJP China Visit : चीन की  कम्‍युनिस्‍ट पार्टी से 'राजनीतिक दोस्‍ती'

सीमा पर चीन के हमले, भारतीय सैनिकों की शहादत, चीन के हमारी जमीन पर कब्‍जे जैसे मुद्दों के बीच कांग्रेस पर बीजेपी के राजनीतिक हमले जारी हैं। जब बीजेपी ने कांग्रेस के चीन से रिश्‍ते जोड़कर सीमा विवाद की खबर को छिपाने की कोशिश की तो कांग्रेस और आक्रामक हो गई। कांग्रेस भी भाजपा के चीन के साथ गहरे रिश्‍तों को परत दर परत उजागर कर रही है। अब पता चला है‍ कि भाजपा नेता सरकार के अंग के रूप में ही चीन नहीं गए बल्कि वे कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के साथ पार्टीगत संबंध निभाने के लिए भी चीन गए थे।

बीजेपी कैडर स्टडी ग्रुप की 26 अगस्‍त 2019 को चीन में हुई इस हुआंग कुनमिंग मीट का एक बयान सामने आया है, जो बताता है कि भारत और चीन की सरकारों के बीच तय विदेश नीति के दायरे में होने वाली बातचीत से अलग बीजेपी ने चीन की कम्‍युनिस्‍ट पार्टी से पार्टीगत संबंध बनाए। वहां अपना अध्‍ययन दल भी भेजा और कम्‍युनिस्‍ट पार्टी से साझेदारी के वादे किए।

सीपीसी की सेंट्रल कमेटी के इंटरनेशनल डिपार्टमेंट द्वारा बीजिंग में जारी इस बयान में कहा गया है कि सीपीसी सेंट्रल कमेटी के पोलित ब्यूरो के सदस्य और सीपीसी सेंट्रल कमेटी के पब्लिसिटी डिपार्टमेंट के हेड हुआंग कुनमिंग ने भारतीय जनता पार्टी के कैडर स्टडी ग्रुप से मुलाकात की। इस ग्रुप का नेतृत्‍व बीजेपी के राष्‍ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने किया। हुआंग ने कहा कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के रणनीतिक मार्गदर्शन के तहत भारत और चीन के सम्‍बंध मजबूत विकास के नए चरण में प्रवेश कर रहे हैं।  सीपीसी दोनों देशों के नेताओं की सहमति से तय व्‍यवहारिक सहयोग, समन्‍वय निर्माण तथा क्षेत्रीय व अंतर्राष्‍ट्रीय मुद्दों पर सहयोग जैसे महत्‍वपूर्ण निर्णयों पर भाजपा के साथ परस्‍पर विनिमय के लिए तैयार है। सीपीसी ने चीन-भारत के बीच दीर्घकालीन और सुदृढ़ सहयोग का आश्‍वासन दिया है। बीजेपी के राष्‍ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने कहा कि बीजेपी भारत और चीन के संबंध सुधारने के लिए सीपीसी के साथ संवाद मजबूत करने और सहयोग करने को उत्‍सुक है।  

 

सीपीसी की सेंट्रल कमेटी के इंटरनेशनल डिपार्टमेंट की वेबसाइट www.idcpc.org.cn के अनुसार 2011 से 2019 के बीच भाजपा के 8 डेलिगेशन चीन गए हैं। 14 जनवरी 2011 व 20 नवंबर 2014 को बीजेपी डेलिगेशन चीन गया था। 15 अक्‍टूबर 2015 भाजपा उपाध्‍यक्ष, 12 जून 2017 को राष्‍ट्रीय महामंत्री, 26 मई 2018 को भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष के विशेष प्रतिनिधि, 15 अगस्‍त 2018 को राष्‍ट्रीय महामंत्री, 4 सितंबर को झारखंड के मुख्‍यमंत्री और भाजपा नेता चीन में कम्‍युनिस्‍ट पार्टी अधिकारियों से मिले थे। 27 और 28 अगस्‍त 2019 को कैडर स्‍टडी ग्रुप से सीवीसी अधिकारियों से मुलाकात की थी।