हनुमान जी के दरबार में कांग्रेस ने लगाई याचिका, राम मंदिर भूमि घोटाले में न्याय की गुहार

निर्माणधीन राम मंदिर जमीन घोटाला मामले में छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने हनुमान जी से अपने कोर्ट में मामला चलाने का अनुरोध किया, फर्जी रामभक्तों पर कार्रवाई की मांग, राम मंदिर ट्रस्ट पर लगा है 2 करोड़ की जमीन 26 करोड़ में खरीदने का आरोप

Updated: Jun 18, 2021, 10:20 PM IST

हनुमान जी के दरबार में कांग्रेस ने लगाई याचिका, राम मंदिर भूमि घोटाले में न्याय की गुहार
Photo Courtesy: Bhaskar

बिलासपुर। अयोध्या में राम मंदिर ट्रस्ट द्वारा 2 करोड़ की जमीन 26 करोड़ में खरीदने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। देश के अन्य राज्यों की तरह छत्तीसगढ़ में भी कांग्रेस ने बीजेपी को आड़े हाथों लिया। बिलासपुर में कांग्रेस नेताओं ने हनुमान मंदिर में BJP, RSS और विश्व हिन्दू परिषद के ख़िलाफ़ याचिका पेश की है । कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने 120 रुपए कोर्ट फीस जमा कर हनुमान जी से अपने कोर्ट में मामला चलाने का निवेदन किया है।

हनुमान जी को लगाई याचिका में कहा गया है कि BJP, RSS और विश्व हिन्दू परिषद और उनके जैसे हिन्दू संगठन श्रीराम के नाम से लोकतंत्र में झूठ का सहारा लेकर सत्ता में काबिज हुए।

 

और पढ़ें: चंद मिनटों में 2 से 18 करोड़ हुई जमीन की कीमत, राम जन्मभूमि ट्रस्ट पर घोटाले का आरोप

दरअसल श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के महासचिव चंपत राय पर आरोप है कि उन्होंने दो करोड़ रुपए की कीमत वाली जमीन को कई गुना ज्यादा दाम देकर खरीदी है। इसे मनी लॉन्ड्रिंग का मामला बताते हुए सिंह और पांडेय ने सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय से जांच करवाने की मांग की है। इन आरोपों को लेकर कांग्रेस भी हमलावर हो गई है।

और पढ़ें: राम मंदिर ज़मीन घोटाले में शंकराचार्य ने की टिप्पणी, कहा, चंदे का पैसा केवल दो चार लोगों के ही हवाले कैसे कर दिया गया

कांग्रेस ने छद्म राम भक्तों पर कार्रवाई करने की मांग की है। हनुमान जी से केस चलाने और सत्ता से बेदखल कर असली राम भक्तों को मंदिर निर्माण की अनुमति प्रदान करने की अपील की है।

और पढ़ें: बजरंगबली से राम मंदिर घोटाले की शिकायत करने पहुंचे थे NSUI कार्यकर्ता, पुलिस ने किया गिरफ्तार

इस याचिका में चार लोगों ने याचिकाकर्ता के तौर पर साइन किए हैं।  विधि विभाग छत्तीसगढ़ के प्रदेशाध्यक्ष और हाई कोर्ट वकील संदीप दुबे ने याचिका पेश की है।