छत्तीसगढ़ में लड़कियों को अगवा कर बेचने के 4 आरोपी गिरफ्तार

Chhattisgarh: डोंगरगढ़ से अगवा महिला ने सुनाई आपबीती, दिल्ली में चाकू की नोक पर हुई ज्यादती, दो बार बेचने का लगाया आरोप

Updated: Nov 24, 2020, 08:03 PM IST

छत्तीसगढ़ में लड़कियों को अगवा कर बेचने के 4 आरोपी गिरफ्तार
Photo courtesy: Bhaskar

रायपुर। छत्तीसगढ़ में मानव तस्करी का मामला सामने आया है। डोंगरगढ़ की एक महिला ने इस बात का खुलासा किया है। दरअसल महिला को सितंबर में अगवा किया गया था। महिला के पुलिस को दिए बयान के मुताबिक उसे दिल्ली और हरियाणा में बेचा गया। इस दौरान उसके साथ ज्यादती भी हुई। महिला को दिल्ली में एक लाख में और हरियाणा में डेढ़ लाख में बेचा गया। महिला के बच्चे को मारने की धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म किया  गया। हरियाणा से किसी कदर बचकर निकली महिला ने अपनी आपबीती पुलिस को सुनाई।

महिला ने बताया कि डोंगरगढ़ में साजदा नाम की महिला से उसकी दोस्ती हुई थी। साजदा अक्सर उसके साथ मॉर्निंग वॉक पर जाती थी, वह काफी पढ़ी लिखी और समझदार लगती थी। दोनों में खूब बातें होती थी। एक दिन सुबह मॉर्निंग वॉक के दौरान महिला को चक्कर आ गया। उस दौरान उसका बच्चा भी साथ में था। तब साजदा ने उसे कहीं से लाकर पानी पिलाया जिससे वह बेहोश हो गई, और जब आंख खुली तो पता चला कि वह डोंगरगढ़ से रायपुर पहुंच चुकी थी।

महिला ने बताया कि जब वह शोर मचाने लगी तो उसके बच्चे को जान से मारने की धमकी गई। वहां पर साजदा के साथ चार और लड़कियां भी मौजूद थीं। सभी को फ्लाइट से दिल्ली ले जाया गया। चारों को बात नहीं करने दी जा रही थी। महिला के मुताबिक उसके साथ ले जाई गई बाकी लड़कियां दुर्ग और राजनांदगांव से थीं ।

महिला ने बताया कि दिल्ली में उन्हें एक मकान में रखा गया, जहां उसे एक लाख रुपए में बेचा गया। चाकू की नोक पर उसका रेप भी हुआ। दिल्ली के बाद उसे हरियाणा के एक शख्स को डेढ़ लाख रुपए में बेच दिया गया। वहां से किसी तरह वह पुलिस के पास पहुंची और पुलिस की मदद से अपने बच्चे को लेकर डोंगरगढ़ पहुंच पाई।

पुलिस ने फरियादी महिला की निशानदेही पर चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। एसडीओपी चंद्रेश ठाकुर से मिली जानकारी के अनुसार साजदा सैय्यद, सलमान खान, शुभम तिवारी, जुनैद खान को गिरफ्तार किया है। 32 वर्षीय साजदा सैय्यद सबसे बड़ी मास्टर माइंड थी। वह गरीब महिलाओं और लड़कियों की तलाश कर उनसे दोस्ती करती थी। किसी बहाने उन्हें बेहोश करके अगवा कर लेती थी। 

29 वर्षीय शुभम तिवारी साजदा के साथ मिलकर अगवा महिलाओं कंट्रोल करता था। शुभम पर आरोप है कि दिल्ली में किराए के मकान में चाकू की नोक पर पीड़िता से रेप किया। पुलिस गिरोह के अन्य सदस्यों की खोज में जुटी है। छत्तीसगढ़ में भोलीभाली महिलाओं को अपने जाल में फंसाने का काम मास्टर माइंड साजदा सैय्यद करती थी। आरोपी साजदा ने पुलिस को बताया कि हर उनका गिरोह पूरे छत्तीसगढ़ के जिलों के साथ दिल्ली हरियाणा और सऊदी अरब तक फैला है। यह गिरोह एक दूसरे के संपर्क में रहता है। अगवा की गई महिलाओं को खरीदारों तक पहुंचाने का काम दिल्ली के दलाल करते थे। यह गिरोह 14 से 30 साल की लड़कियों और महिलाओं को निशाना बनाता था।

पुलिस ने टेलर का काम करने वाले तीस वर्षीय सलमान खान को भी गिरफ्तार किया है। वह महिलाओं को अगवा कर एयरपोर्ट तक लाने का काम करता था। 22 साल का जुनैद खान देशभर के दलालों का नेटवर्क संचालित करता था। मोबाइल पर ही तस्करी की डील किया करता था। छत्तीसगढ़ पुलिस दिल्ली और हरियाणा के आरोपियों को गिरफ्तार करने हरियाणा जाने की तैयारी में है। पुलिस का कहना है कि दोषियों को किसी कीमत पर बक्शा नहीं जाएगा।