छत्तीसगढ़ में हर साल 25 मई को ‘झीरम श्रद्धांजलि दिवस’

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिया आदेश, शहीदों को करेंगे याद, CG को फिर शांति का टापू बनाने का संकल्प


Updated: May-23, 2020, 04:52 PM IST

छत्तीसगढ़ में हर साल 25 मई को ‘झीरम श्रद्धांजलि दिवस’

छत्तीसगढ़ में 25 मई का दिन झीरम श्रद्धांजलि दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस दिन प्रदेश के सभी शासकीय और गैर शासकीय कार्यालयों में शहीदों की स्मृति में दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दी जाएगी, और राज्य को एक बार फिर शांति का टापू बनाने का संकल्प लिया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसके लिए निर्देश जारी कर दिए हैं।

आपको बता दें कि 25 मई 2013 को झीरम घाटी में नक्सल हिंसा के शिकार हुए प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं, सुरक्षा बलों के जवानों और बीते वर्षों में नक्सल हिंसा के शिकार हुए सभी लोगों की स्मृति में 25 मई को प्रतिवर्ष छत्तीसगढ़ में अब ’झीरम श्रद्धांजलि दिवस’ के रूप में मनाया जाएगा। सोमवार को झीरमघाटी हमले के सात साल पूरे होने वाले हैं। इस हमले में 32 लोगों की जानें गई थीं। यह देश का दूसरा सबसे बड़ा माओवादी हमला था। यह हमला बस्तर जिले के दरभा इलाके के झीरम घाटी में कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर हुआ था। इस हमले को कांग्रेस ने सुपारी किलिंग करार दिया। इसकी जांच जारी है।
झीरम घाटी हमले में काग्रेस के 25 नेता शहीद हुए थे। कांग्रेस की लंबे समय बाद बनी सरकार ने आखिरकार उन्हें याद करते हुए हादसे के दिन को श्रद्धांजलि दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया है।