विदेशी निवेशकों ने सितंबर में भारतीय बाजार से निकाले 2 हजार करोड़ रुपए

Corona Fffect: विकराल होता कोरोना संकट और चीन के साथ तनाव मुख्य वजह, पैसे निकालने से रोजगार सृजन के मौके घटे

Updated: Sep 13, 2020 10:54 PM IST

विदेशी निवेशकों ने सितंबर में भारतीय बाजार से निकाले 2 हजार करोड़ रुपए
Photo Courtsey: IndiaTV

नई दिल्ली। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने सितंबर में भारतीय बाजार से 2,038 करोड़ रुपए निकाल लिए। बताया जा रहा है कि यह निकासी देश में लगातार बढ़ते जा रहे कोरोना वायरस मामलों और सीमा पर चीन के साथ बढ़ रहे तनाव को लेकर हुई है। निवेशकों को भारतीय बाजार में मुनाफा नजर नहीं आ रहा है।

इतना पैसा निकाल लेने कब बाद विदेशी निवेशक भारतीय बाजार में विक्रेता हो गए हैं। इससे पहले जून से अगस्त तक वे लगातार खरीदार बने हुए थे। उन्होंने अगस्त में 46,532 करोड़, जुलाई में 3,301 करोड़ और जून में 24,053 करोड़ का निवेश किया था। सितंबर में पैसे निकालने से रोजगार सृजन के मौके भी कम हो गए हैं।

Click: Corona Effect जुलाई में औद्योगिक उत्पादन10 फीसदी से अधिक घटा

मॉर्निंग स्टार इंडिया के एसोसिएट डायरेक्टर हिमांशु श्रीवास्तव ने बताया कि विदेशी निवेशक सितंबर की शुरुआत से ही भारतीय बाजार में बहुत सावधानी के साथ निवेश कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि अप्रैल जून तिमाही के जीडीपी आंकड़ों ने विदेशी निवेशकों की धारणा पर प्रतिकूल असर डाला है। चीन के साथ बढ़ते तनाव के कारण भी वे बाजार में मौजूद नहीं रहना चाहते।

Click: GST : उधार लेकर राज्यों को जीएसटी मुआवजा नहीं देगी मोदी सरकार

दूसरी तरफ विदेशी निवेशकों ने भारतीय कर्ज बाजार में निवेश भी किया है। इस बारे में कहा जा रहा है कि क्योंकि अमेरिका जैसे देशों में सरकारें बॉन्ड खरीद रही हैं, इसलिए ऐसे में वहां कर्ज पर मिलने वाला मुनाफा घट गया है। इसकी वजह से निवेशक दूसरे बाजार तलाश रहे हैं।