सोनू सूद की बढ़ीं मुश्किलें, 20 करोड़ की टैक्स चोरी का आरोप

इनकम टैक्स विभाग का दावा है कि सोनू सूद और उनके सहयोगियों ने फर्जी लेनदेन करते हुए देश विदेश से 2.1 करोड़ का अवैध दान लिया, एक फर्म के साथ 175 करोड़ रुपये का लेनदेन किया

Updated: Sep 18, 2021, 02:13 PM IST

सोनू सूद की बढ़ीं मुश्किलें, 20 करोड़ की टैक्स चोरी का आरोप
Photo Courtesy: Instagram

मुंबई। एक्टर सोनू सूद के करीब 28 ठिकानों पर आयकर विभाग ने तीन दिनों तक छापे की कार्रवाई की। अब आयकर विभाग ने खुलासा किया है कि एक्टर ने 20 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी की है। 2.1 करोड़ रुपये का अवैध विदेशी दान लिया है। वहीं उनकी कंपनी ने करीब 65 करोड़ रुपये का फर्जी लेनदेन दिखाया है। जयपुर की एक नामी फर्म के साथ 175 करोड़ रुपये के लेनदेन का दावा भी किया है।

इनकम टैक्स विभाग को सोनू सूद और उनके सहयोगियों के घर-दफ्तरों से टैक्स चोरी से जुड़े बहुत से सबूत मिले हैं। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड याने CBDT का कहना है कि एक्टर ने फर्जी संस्थाओं से फर्जी और असुरक्षित ऋण के रूप में बेहिसाब पैसे जमा किए थे। आयकर विभाग ने सोनू सूद के मुंबई के अलावा दिल्ली, गुरुग्राम, कानपुर, लखनऊ, जयपुर समेत करीब 28 ठिकानों पर लगातार तीन दिनों तक छापा मारा, इस दौरान कई बड़े हेरफेर के सबूत मिले हैं।

और पढ़ें: एक्टर सोनू सूद के यहां IT की दबिश, 6 ठिकानों पर हो रही सर्वे की कार्रवाई

आयकर विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सोनू चैरिटी फाउंडेशन की स्थापना जुलाई 2020 में हुई थी। इस इस NGO को 1 अप्रैल 2021 से अब तक 18.94 करोड़ का डोनेशन मिला है। इस डोनेशन में से एनजीओ ने 1.9 करोड़ अलग अलग राहत कार्यों में खर्च किए। 17 करोड़ रुपए का कोई उपयोग नहीं किया गया है। इस  चैरिटी फाउंडेशन ने क्राउड फंडिंग प्लेटफॉर्म पर कई विदेशी डोनर्स से 2.1 करोड़ रुपये जमा किए, जो की गैर कानूनी है।

 

अपने करियर को शुरुआती दौर में सोनू सूद अपने गांव मोगा से केवल साढ़ें 4 हजार  रुपए लेकर मुंबई आए थे। अब उनके पास करीब 130 करोड़ से ज्यादा की प्रॉपर्टी है। कोरोना लॉकडाउन के दौरान उन्होंने लाखों लोगों के लिए मदद का हाथ बढ़ाया था।