आंधी चलने से गिर गए लाखों केले के पौधे, कांग्रेस ने की किसानों को मुआवजा देने की मांग

शनिवार को मध्यप्रदेश के कई हिस्सों में चली तेज़ हवाएं, बुरहानपुर और खरगोन में गिर लाखों केले के पौधे, गन्ने और मूंग की भी फसल को हुआ नुकसान

Updated: May 30, 2021, 09:15 PM IST

आंधी चलने से गिर गए लाखों केले के पौधे, कांग्रेस ने की किसानों को मुआवजा देने की मांग

भोपाल। शनिवार को मध्यप्रदेश के कई हिस्सों में चली आंधी किसानों के लिए आफत बन कर आई। आंधी चलने से किसानों की फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। आंधी चलने से बुरहानपुर और खरगोन में लाखों केले के पौधे गिर गए। इसके साथ ही मूंग और गन्ने की फसल भी बुरी तरह नष्ट हो गईं। किसानों को हुए भारी नुकसान के बाद कांग्रेस ने सरकार से किसानों को मुआवजा देने की मांग की है। 

कांग्रेस नेता अरुण यादव ने आंधी के बाद किसानों को हुए नुकसान के बाद कहा, बुरहानपुर एवं खरगोन जिलों में आंधी तूफान व भारी बारिश से केले, गन्ने एवं मूंग की फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है, किसानों से फोन पर नुकसान के बारे में चर्चा की, मेरी सरकार से मांग है कि बीमा और मुआवजा तत्काल दिया जाए, कांग्रेस पार्टी इस विपदा की घड़ी में किसानों के साथ खड़ी है । 

इसके अलावा अरुण यादव ने अपने एक अन्य ट्वीट में खेतों में गिरे केले के पौधों की तस्वीर साझा करते हुए कहा कि प्रकृति के रौद्र रूप के सामने किसान भी पस्त है | कल बुरहानपुर जिले के ग्राम निमना, नसीराबाद, लिंगा, देवरी एवं फोपनार सहित दर्जनों ग्रामों में आंधी एवं तूफान से किसानों की फसल का भारी नुकसान हुआ है | सरकार नुकसान का मुआयना एवं आंकलन कर तत्काल मुआवजे के रूप में राहत प्रदान करें। 

यह भी पढ़ें : हनीट्रैप मामले में कमल नाथ से पूछताछ करेगी एसआईटी, 2 जून को कमल नाथ के आवास पहुंचेगा जांच दल

दूसरी तरफ प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश की संभावना बनी हुई है। गरम हवा चलने और साथ में आसमान में बादल छाए होने के चलते मध्यप्रदेश से तमिलनाडु तक एक ट्रफ लाइन बनी हुई है। ट्रफ लाइन बादलों के बीच चलने वाली ठंडी और गरम हवा के मिलने से बनती है। जिस वजह से तेज़ हवा के साथ बारिश होती है। भोपाल, इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद और जबलपुर संभाग में भारी बारिश के आसार बने हुए हैं। यह सिलसिला अगले दो दिन तक चलने की संभावना है।