Aloe Vera: एलोवेरा को आयुर्वेद में क्यों दी गई संजीवनी की उपमा, जानिए

ऐलोवेरा स्किन, बालों और पेट के लिए बहुत फायदेमंद है, इसमें पाए जाने वाले अमीनो एसिड, विटामिन, मिनरल्स इम्यूनिटी बढ़ाते हैं

Updated: Jan 17, 2021, 01:49 PM IST

Aloe Vera: एलोवेरा को आयुर्वेद में क्यों दी गई  संजीवनी की उपमा, जानिए
Photo Courtesy: Studio99

हर किसी का सपना होता है, बेदाग और चमकता चेहरा, इसके लिए लोग कई तरह के जतन करते हैं। अगर आप भी स्किन में ग्लो लाना चाहते हैं तो एक आसान नुस्खा अपना कर स्किन, बाल ही नहीं पूरी हेल्थ मेंटेन कर सकते हैं। वो जादुई चीज है ऐलोवेरा। यह गुणों की खान है। इसके गुणों के कारण ही आयुर्वेद में इसे संजीवनी की उपमा दी गई है।

ऐलोवेरा का जूस पीने से चेहरे पर चमक आती है, कहा जाता है अगर आपका पेट ठीक है तो हर अंग ठीक रहता है। त्वचा की परेशानियां जैसे कील, मुहांसे अक्सर पेट की खराबी के कारण होते हैं। ऐलोवेरा का जूस इन सारी परेशानियों को ठीक कर चेहरे की चमक बनाए रखता है।

 ऐलोवेरा को गुणों की खान कहा जाता है, यह अमीनो एसिड रिच होता है, इसमें विटामिन 12 और कई मिनरल्स पाए जाते हैं। जिससे शरीर की इम्यूनिटी इंप्रूव होती है। यह स्किन में पिंपल, एक्ने दूर करने, बर्न से राहत देने और घावों को भरने में भी फायदेमंद है। कैंसर रोगियों को भी ऐलोवेरा का जूस पीने की सलाह दी जाती है। इससे कीमोथेरेपी के बाद होने वाले साइड इफेक्टस कम करने में मदद मिलती है।

वेट लॉस प्रोसेस में ऐलोवेरा बड़े काम आता है, अगर आप सुबह शाम 30 ML ऐलोवेरा जूस का उपयोग करें तो आप हर महीने आसानी से अपना वेट कम कर सकते हैं। एलोवेरा जूस पीने से पाचन भी अच्छा होता है। जिन लोगों को थायराइड की परेशानी हो उनके लिए भी एलोवेरा जूस फायदेमंद होता है।

एलोवेरा स्किन, बालों, लिवर के लिए फायदेमंद हैं। ऐलोवेरा जेल बालों और चेहरे में लगाने से बाल और स्किन हेल्दी रहते हैं। बालों की शाइन बढ़ती है।

गर्मियों में अक्सर स्किन टैनिंग की समस्या हो जाती है, या सन बर्न से आप परेशान होते हैं। तो वहीं सर्दियों में त्वचा फटने लगती है, ऐसे में एलोवेरा जेल लगाना फायदेमंद है। इससे टैनिंग दूर होती है। अगर किसी वजह से जल गए हो तो तुरंत उस पर ताजा ऐलोवेरा लगाने से फफोले नहीं पड़ते और ठंडक भी मिलती है। वहीं ऐलोवेरा जेल के नियमित उपयोग से स्ट्रेच मार्क्स कम होते हैं। आंखों ने नीचे के काले घेरे और झांई की समस्या दूर होती है।

बालों की लंबाई बढ़ाने में भी एलोवेरा काम आता है। ताजे एलोवेरा का पल्प निकालकर उसमें मेथी दाना, तुलसी पाउडर, कैस्टर ऑयल का पेस्ट बना लें और सिर पर लगाएं, इससे बालों की ग्रोथ बढ़ती है। डैंड्रफ की प्राबल्म साल्व होती है। बालों में करीब एक घंटा ये पेस्ट लगाकर रखें फिर बाद में शैंपू करें। 

ऐलोवेरा जेल को आप मेकअप रिमूव करने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं। यह मेकअप से स्किन को होने वाले नुकसान से बचाता है। ऐलोवेरा एंटी एजिंग क्वालिटी से भरपूर है। यह एंटीआक्सीडेंट भी होता है। रोजाना इसके उपयोग से स्किन यंग और ब्यूटीफुल नजर आएंगे।

ऐलोवेरा का उपयोग दर्दनाशक के रूप में भी होता है। ऐलोवेरा के पल्प में थोड़ी मात्रा में हल्‍दी पाउडर मिला ले फिर इसे हल्का गर्म करके दर्द वाली जगह पर बांध दें, इससे दर्द से राहत मिलती है। अक्सर सिरदर्द होता है तो आप ऐलोवेरा के जूस का खाली पेट सेवन कर सकते हैं। सिरदर्द से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाएगा।

गाय के घी में 5-6 ग्राम ऐलोवेरा पल्प में सोंठ, कालीमिर्च, पिप्‍प्‍ली, हरड़ और सेंधा नमक मिलाकर यूज करने से अपच और गैस की समस्या ठीक होती है। तो आप भी ऐलोवेरा का उपयोग कर अपनी इम्यूनिटी बढ़ाएं और स्किन का ग्लो भी बढ़ाएं।