कमर दर्द से छुटकारा देंगे ये योगासन

नियमित तौर पर योगाभ्यास नहीं करने से हमारी हड्डियों में कड़ापन आ जाता है, जिसकी वजह से छोटे-मोटे झुकाव के कारण कमर में दर्द होने लगता है

Updated: Jul-28, 2020, 10:37 AM IST

कमर दर्द से छुटकारा देंगे ये योगासन

कमर में दर्द और अकड़न की परेशानी से कई लोग हमेशा जूझते रहते हैं य़ा फिर कइयों को अचानक ही कमर में मोच आ जाती है। इसका मुख्य कारण है रीढ़ की हड्डी का लचीला न होना। नियमित तौर पर योगाभ्यास नहीं करने से हमारी हड्डियों में कड़ापन आ जाता है। जिसकी वजह से छोटे-मोटे झुकाव के कारण कमर में दर्द होने लगता है। इन सब परेशानियों से छुटाकारा पाने के लिए नियमित तौर पर योग किया जा सकता है। मार्जरी आसन कमर और रीढ़ की हड्डी से अकड़न दूर करने के लिए फायदेमंद माना जाता है। इसे नियमित रूप से करने से कमर और रीढ़ की सारी परेशानियां छूमंतर हो जाती है।

बेहद सरल है मार्जरी आसन करने का तरीका

मार्जरी आसन करने का तरीका बेहद ही सड़क है। इसे करने के लिए सबसे पहले अपने घुटनों और हाथों को जमीन पर टिका लें। इसके बाद सिर को नीचे की ओर ले जाएं। इसके बाद पीठ को बाहर की तरफ करते हुए गोल करें। ऐसा करने से पीठ में खिंचाव उत्पन्न होगा। तत्पश्चात सांस छोड़ते हुए सिर को ऊपर की ओर ले जाएं और छाती के ऊपरी हिस्से को अंदर की ओर घुमाएं। ऐसा करने से छाती में खिंचाव महसूस होगा। इस अभ्यास को दो से तीन बार या सामर्थ्य के अनुसार करें। इस आसन के नियमित अभ्यास से आपकी रीढ की हड्डी बेहद लचीली हो जाएगी। 

मार्जरी आसन करने के फायदें

मार्जरी आसन रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाने के साथ-साथ हमारे पाचन क्रिया को भी दुरुस्त रखता है। इसे कब्ज की समस्याओं के लिए भी रामबाण इलाज माना जाता है। इसके अलावे इस आसन को करने से शरीर में स्फुर्ति भी बनी रहती है। हालांकि अगर किसी के गर्दन में चोट है तो उसे इस आसन को करने से बचना चाहिए। इस आसन को करने के बाद भुजंगासन करना शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होता है। यदि आपको इस आसन को करने में कठिनाई महसूस हो रही है तो शुरूआत के कुछ दिन किसी दूसरे व्यक्ति या ट्रेनर की मदद लेकर भी इस आसन को किया जा सकता है।