न्यूजीलैंड ने भारतीय यात्रियों की आवाजाही पर लगाई रोक, बढ़ते कोरोना मामलों के मद्देनज़र लिया फैसला

न्यूजीलैंड में 11 अप्रैल से 28 अप्रैल तक भारत से आने वाले किसी भी व्यक्ति पर प्रवेश की अनुमति नहीं होगी, यह नियम न्यूजीलैंड में 11 अप्रैल की शाम 4 बजे से लागू हो जाएगा

Updated: Apr 08, 2021, 10:50 AM IST

न्यूजीलैंड ने भारतीय यात्रियों की आवाजाही पर लगाई रोक, बढ़ते कोरोना मामलों के मद्देनज़र लिया फैसला
Photo Courtesy: Hindustan Times

नई दिल्ली। भारत में बढ़ते कोरोना के संक्रमण को देखते हुए न्यूजीलैंड ने भारत से आने वाले व्यक्तियों पर रोक लगाने का फैसला किया है। 11 अप्रैल से 28 अप्रैल के दरमियान भारत से आने वाले लोगों की एंट्री पर रोक लगा दी गई है। यह फैसला न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डेन ने लिया है। 

न्यूजीलैंड के समयानुसार 11 अप्रैल की शाम 4 बजे से भारत से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। 28 अप्रैल तक न्यूजीलैंड में जारी रहेगी। हालांकि यह व्यवस्था आगे बढ़ेगी या नहीं, इस पर तात्कालिक परिस्थितियों के हिसाब से फैसला लिया जाएगा। 

दूसरी तरफ भारत से आने वाले लोगों की एंट्री पर रोक केवल भारत के लोगों के लिए नहीं है। अगर कोई न्यूजीलैंड का नागरिक भी भारत से आना चाहता है। उसकी एंट्री भी प्रतिबंधित रहेगी। 

भारत में जिस तरह से कोरोना की नई लहर ने कोहराम मचा रखा है। उसे देखते हुए यह कयास लगाए जा रहे हैं कि न्यूजीलैंड के नक्शे कदम पर ही बाकी देश भी भारत से आने वाले लोगों की एंट्री प्रतिबंधित कर सकते हैं। कोरोना के साये के बीच ही शुक्रवार से भारत में इंडियन प्रीमियर लीग का आयोजन भी शुरू होना है। इसलिए बढ़ते कोरोना के संक्रमण के बीच पूरे आईपीएल टूर्नामेंट का आयोजन हो पाएगा या नहीं इस पर भी अभी संशय की स्थिति बन चुकी है। आईपीएल के खिलाड़ियों के साथ साथ कोचिंग स्टाफ भी कोरोना से संक्रमित होना शुरू हो चुके हैं।