फ्रांस और इटली में एक बार फिर कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी 

फ्रांस में पिछले दो दिनों में बढ़ी संख्या में लोगों को अस्पताल में भर्ती कराने की जरुरत पड़ी है, चीन के बाद यूरोप के कुछ देशों में तेजी से कोरोना का नया संस्करण अपने पैर पसार रहा है 

Publish: Mar 29, 2022, 09:30 AM IST

फ्रांस और इटली में एक बार फिर कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी 
courtesy: india today

नई दिल्ली। 
कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से हो रही बढ़ोत्तरी से विश्व के कुछ देशों में हड़कंप मच गया है। ओमीक्रॉन का नया संस्करण बीए.2  यूरोप और चीन में तेजी से फ़ैल रहा है। फ्रांस, इटली, ज़र्मनी और यूनाइटेड किंगडम में मार्च महीने में कोविड के मामलों में तेज वृद्धि देखी गई है। बीए.2 वायरस के तेज संक्रमण के कारण चीन के सबसे बड़े शहर शंघाई में लॉकडाउन लगाना पड़ा है। इटली में पिछले दो दिनों में कोरोना के 90 हजार से अधिक मामले दर्ज किये गए हैं। फ्रांस में पिछले 24 घंटों में कोरोना के चलते अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या 467 से बढ़कर 21073 हो गई है। 
हालाँकि चीन को छोड़कर एशिया के अन्य देशों में कोरोना के मामलों में कमी आ रही है। भारत में कोरोना की तीसरी लहर शांत पड़ती जा रही है और कोरोना के नए मामले रोजाना 2 हजार के आसपास ही आ रहे हैं। इसे देखते हुए अमेरिका ने सोमवार को भारत और कुछ अन्य देशों के लिए कोविड-19 यात्रा रेटिंग में ढील दी है। अमेरिकी प्रशासन ने भारत के लिए अपनी कोविड यात्रा सिफारिश को उच्च जोखिम से कम जोखिम में बदल दिया है। 
चीन के बाद फ्रांस और इटली में तेजी से बढ़ती कोरोना मरीजों की संख्या ने विश्व स्तर पर चिंता बढ़ा दी है। फ्रांस में ओमीक्रॉन के नए संस्करण के कारण बहुत बड़ी संख्या में लोगों को अस्पताल में भर्ती करना पड़ रहा है। इटली के स्वास्थ मंत्रालय के अनुसार रविवार को 59555 और सोमवार को 30710 कोविड मरोज देश में पाए गए हैं। इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट सोमवार को कोविड -19 पॉजिटिव पाए गए हैं। यूरोप और चीन के कुछ हिस्सों में कोविड मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी को देखते हुए डब्लूएचओ ने चेतवनी देते हुए कहा है कि कोविड से उत्पन्न महामारी अभी खत्म नहीं हुई है इसलिए सतर्कता बरतना जरूरी है।