पाकिस्तान में एक और सर्जिकल स्ट्राइक, इस बार ईरान ने की कार्रवाई

ईरान की सेना ने दावा किया है कि उन्होंने पाकिस्तान के कब्जे से अपने दो सैनिकों को भी छुड़ा लिया है, इस सैन्य कार्रवाई में पाकिस्तान सेना के कई जवानों के मारे जाने की खबर है

Updated: Feb 04, 2021, 06:31 PM IST

पाकिस्तान में एक और सर्जिकल स्ट्राइक, इस बार ईरान ने की कार्रवाई
Photo Courtesy : OPIndia

तेहरान। पाकिस्तान में एक और सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया गया है। इस बार पाकिस्तान के घर में घुसकर मारने का दावा ईरान ने किया है। इसी के साथ पाकिस्तान में ऐसी कार्रवाई करने वाला ईरान दुनिया का तीसरा देश बन गया है। इसके पहले अमेरिका और भारत की सेनाएं भी पाकिस्तान के भीतर घुसकर सैनिक कार्रवाई कर चुकी हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ईरान ने पाकिस्तानी सीमा में यह सैन्य कार्रवाई मंगलवार देर रात को की है, जिसकी ईरान ने अब पुष्टि भी कर दी है। बताया जा रहा है कि ईरान के रेवोल्यूशनरी गार्ड्स (IRGC) ने खुफिया जानकारी के आधार पर पाकिस्तान की सीमा में काफी अंदर जाकर इस अहम ऑपेरशन को अंजाम दिया है। इस सैन्य कार्रवाई के दौरान ईरानी सैनिकों ने पाकिस्तान के कब्जे से अपने दो सैनिकों को भी छुड़ाया है।

इतना ही नहीं इस ऑपेरशन के दौरान ईरानी सेना ने पाकिस्तान के कई आतंकियों और सुरक्षाबलों को एकसाथ मौत के घाट उतार दिया। इस स्ट्राइक के दौरान पाकिस्तानी सेना आतंकियों को कवर फायर दे रही थी। यह ऑपेरशन पाकिस्तान के अवैध रूप से कब्जाए गए बलूचिस्तान में हुई है, जहां जैश अल-अदल के आतंकियों ने ईरान के दो बॉर्डर गार्ड्स को बंधक बनाकर रखा था। ईरान के रेवोल्यूशनरी गार्ड्स ने इस ऑपरेशन और उसकी सफलता की पुष्टि कर दी है। हालांकि इस बारे में पाकिस्तान की ओर से अबतक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

यह भी पढ़ें: आतंकी सरगना लखवी को 15 साल की कैद, टेरर फंडिंग का है गुनाहगार

रेवोल्यूशनरी गार्ड्स द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि आतंकी समूह की ओर से अगवा किए गए दो बॉर्डर गार्ड्स को मुक्त कराने के लिए मंगलवार को सफलतापूर्वक इस ऑपरेशन को अंजाम दिया गया है। बताया जा रहा है कि जैश अल-अदल ने साल 2018 में ही ईरानी बॉर्डर गार्ड्स के इन दो जवानों को अगवा कर लिया था, अब खुफिया जानकारी मिलने के बाद ईरान ने छुड़ा लिया है। जैश अल-अदल एक आतंकी संगठन है, जिसने ईरान में कई बार नागरिकों और सैन्य ठिकानों पर हमले किए हैं।