भोपाल: मामा ने 1 करोड़ रुपए के लिए भांजे का किया अपहरण, दो दोस्तों के साथ रची थी साजिश

भोपाल में ICICI बैंक के रिकवरी मैनेजर राहुल के अपहरण की गुत्थी को सुलझा लिया गया है। आरोपी और कोई नहीं बल्कि पीड़ित का मामा निकला।

Updated: Nov 13, 2022, 09:25 AM IST

भोपाल: मामा ने 1 करोड़ रुपए के लिए भांजे का किया अपहरण, दो दोस्तों के साथ रची थी साजिश

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में हाईप्रोफाइल अपहरण की गुत्थी को सुलझा लिया गया है। अपहरण करवाने वाला कोई और नहीं बल्कि पीड़ित का मामा ही निकला। मामा ने भांजे का अपहरण करने के लिए दो अपहरणकर्ताओं को 50 हजार रुपए में हायर भी किया था।

दरअसल, शुक्रवार को राजधानी भोपाल में एक निजी बैंक के रिकवरी मैनेजर राहुल राय के अपहरण की वारदात सामने आई थी। इस दौरान आरोपियों ने फोन कर राहुल के परिजनों 1 करोड़ की फिरौती मांगी थी। लेकिन फिरौती नहीं मिलने पर राहुल को जमकर पीटा। और जब बेहोश हो गया तो उसे मरा समझकर जंगल में छोड़ भाग गए। 

राहुल बुरी तरह से घायल अवस्था में रातीबड़ के जंगल में मिला था, जिसके बाद राहुल को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जब राहुल को होश आया तब उसने पूरी आप बीती पुलिस को सुनाई। राहुल के बयान ने अपहरण का खुलासा कर दिया। बयान के मुताबिक इस पूरी साजिश का मास्टरमाइंड राहुल राय का मामा निकला।

राहुल के मामा अनुपम दास ने अपने साथी हंसराज और आदित्य की मदद से इस अपहरण की साजिश रची थी।पीड़ित के बयान के आधार पर पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि राहुल को वे धोखे से जंगल ले गए। और उसके ही मोबाइल से फोन कर फिरौती मांगी। लेकिन जब हमें समय पर पैसे नहीं मिले तब राहुल की जमकर पिटाई की। साथ ही उसे मरा समझकर छोड़कर भाग गए थे।

एडिशनल डीसीपी श्रुतकीर्ति सोमवंशी ने बताया कि अनुपम दास ने ही किडनैपिंग के लिए हंसराज और आदित्य को 50 हजार रुपए देकर हायर किया था। दोनों आरोपी प्राइवेट अस्पताल में जॉब करते हैं। अनुपम को पता था कि राहुल के पिता ने उसके नाम से डेढ़ करोड़ की एफडी कराई है। पैसे के लोभ में मामा ने अपने सगे भांजे का अपहरण किया था। इतना ही नहीं वह अपहरण का शिकायत करने अपनी बहन के साथ पुलिस थाने भी गया था।