भोपाल सासंद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने लगाई निगम कमिश्नर को फटकार, पानी की समस्या से कराया अवगत

प्रज्ञा ठाकुर ने फोन लगाते साथ पहले हरि ओम कहा और कहा कि "पानी का क्या है, आपने 60 घंटे का बोला था, जो नहीं बोलना चाहिए था

Updated: May 16, 2022, 06:57 AM IST

भोपाल सासंद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने लगाई निगम कमिश्नर को फटकार, पानी की समस्या से कराया अवगत

भोपाल। भोपाल से सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने भोपाल के निगम कमिश्नर को फटकार लगाया है। दरअसल भोपाल में पानी की समस्या को लेकर प्रज्ञा भड़क गईं और निगम कमिश्नर को फोन लगा दिया। प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कमिश्नर को फोन कर पानी की समस्या के बारे में बताया और उनसे पानी की व्यवस्था का पूरा जायजा लिया। निगम कमिश्नर उनके सभी सवालों का जवाब देते हुए दिख रहे हैं

यह भी पढ़ें: बीडी शर्मा ने दिग्विजय सिंह पर गुना कांड को लेकर लगाया बड़ा आरोप, सिंह ने कहा सरकार आपकी है, जांच कराएं

प्रज्ञा ठाकुर ने फोन लगाकर कहा कि "पानी का क्या हाल है, आपने 60 घंटे का बोला था, जो नहीं बोलना चाहिए था। फिर भी जनता ने उसे स्वीकार किया। अभी शायद आप नया कुछ प्रयोग कर रहे हैं। इतनी गर्मी में जो तापमान अभी चल रहा है, जनता इसे कैसे सहन कर रही है आपको इसकी जानकारी है।"

इसका जवाब देते हुए कमिश्नर ने कहा कि "मैं सुबह से यही काम कर रहा था मैडम। कई जगह पर पानी भरना चालू हो गया है और कई जगह पर भर गया है।" इसके बाद सांसद ने पूछा कि "आपने जो नंबर दिया है वो तो कोई नहीं उठा रहा है, जनता तो परेशान हो गई। ये आपने बिना योजना के कैसे कर लिया।" उन्होंने आगे कहा कि "कम से कम इसके बारे में आप पहले से योजना बनाते। अमीर आदमी तो खुद से व्यवस्था कर लेगा, लेकिन गरीब आदमी क्या करेगा।" 

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में महिलाओं से अपराध के मामले बढ़े, प्रतिदिन औसतन 23 बेटियों का अपहरण

डांट लगाते हुए कहा कि "जो झुग्गी वाले हैं, उनके पास बर्तन नहीं है पानी भरने की। पांचवा दिन है आज कितनी बुरी हालत हो रही है।" इसके बाद सवाल करते हुए पूछा कि आप बताइए कितने घंटे पानी पहुंच रहा है। जिसका जवाब देते हुए कमिश्नर ने कहा कि अभी तक 50 प्रतिशत पानी पहुंच गया है कल सुबह तक सभी जगह पहुंच जाएगा। 

साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि जहां पानी नहीं हो पा रहा है वहां टैंकर भेजिए। और जहां टंकी भर रही है, वहां पानी आ जाना चाहिए। निगम कमिश्नर ने जवाब देते हुए कहा कि सुबह तक कोई पानी की समस्या नहीं बचेगी। जिसका जवाब देते हुए संसद ने कहा कि मैं आपको रात दस बजे भी कॉल कर सकती हूं और पूछूंगी की कहां-कहां पानी पहुंच गया है। 

गौरतलब है कि कोलार परियोजना से पानी की आपूर्ति नहीं होने से काफी समस्या आ रही है। कारण है कि कोलार जलप्रदाय योजना की प्रीस्ट्रेस्ड सीमेंट क्रांकीट, पीएससी की ग्रेविटी मेन, फीडरमैन का कार्य चल रहा है। जिस कारण भोपाल के कई इलाकों में पिछले 5 से 6 से पानी की आपूर्ति नहीं की जा रही है। राजधानी भोपाल में भीषण गर्मी में लोग पानी की कमी से परेशान है। इसको लेकर जनता की परेशानी को लेकर सांसद और नगरीय आवास विभाग के मंत्री ने आयुक्त को तुरंत समस्या के समाधान के निर्देश दिए हैं।