मुरलीधर राव: सिंधिया और उनके समर्थकों के कारण हमारे पुराने नेता मंत्री नहीं बन पाए, अब और कितना एडजस्ट करें

बीजेपी के सत्ता में आने के बाद से ही अक्सर बीजेपी के पुराने नेताओं की तरफ से विरोध के स्वर उठते रहते हैं, पाटन विधायक अजय विश्नोई कई मर्तबा अपनी नाराज़गी ज़ाहिर कर चुके हैं

Updated: Feb 01, 2021, 11:43 AM IST

मुरलीधर राव: सिंधिया और उनके समर्थकों के कारण हमारे पुराने नेता मंत्री नहीं बन पाए, अब और कितना एडजस्ट करें
Photo Courtesy: People's Samachar

भोपाल/इंदौर। बीजेपी मध्यप्रदेश के प्रभारी बीजेपी नेता मुरलीधर राव ने प्रदेश की नई कार्यकारिणी में सिंधिया समर्थकों को शामिल नहीं किए जाने को लेकर प्रतिक्रिया दी है। बीजेपी महासचिव मुरलीधर राव ने कहा है कि सिंधिया समर्थकों के कारण ही बीजेपी के पुराने नेता मंत्री नहीं बन पाए, अब और एडजस्ट नहीं कर सकते। 

दरअसल मुरलीधर राव ने यह बयान रविवार को मीडिया से चर्चा के दौरान दिया । रविवार को इंदौर में बीजेपी की नई प्रदेश कार्यकरिणी की पहली बैठक हुई थी। बैठक संपन्न होने के बाद प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव के साथ प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पराशर भी मौजूद थे।

इसी दौरान जब एक मीडियाकर्मी ने बीजेपी की नई कार्यकरिणी में सिंधिया समर्थकों की गैरमौजूदगी का कारण पूछा तो मुरलीधर राव बिफर उठे। बीजेपी नेता ने कहा कि उनके कारण ही हमारे पुराने नेता मंत्री नहीं बन पाए। अब और कितना एडजस्ट करें? हालांकि असमंजस की स्थिति बनते देख मुरलीधर राव ने तुरंत डैमेज कंट्रोल किया और कहा, वे (सिंधिया) अब बीजेपी के नेता हैं। और उनके समर्थक भी अब बीजेपी के कार्यकर्ता हैं।  

दरअसल बीजेपी के सत्ता में आने के बाद से ही पार्टी के पुराने नेता सिंधिया समर्थकों को तरजीह दिए जाने से खफा चल रहे हैं। पाटन विधायक अजय विश्नोई अक्सर अपनी पार्टी की आलोचना करते नज़र आते रहते हैं। उपचुनाव से पहले ही उन्होंने पार्टी के पुराने नेताओं को दरकिनार किए जाने पर सवाल खड़ा किया था। विश्नोई मंत्रिमंडल में विंध्य क्षेत्र के विधायकों को शामिल न किए जाने को लेकर भी सवाल उठा चुके हैं।