बिजली बिल माफी पर शिवराज चौहान की दो घोषणाएं, कांग्रेस ने ली चुटकी

MP By Poll 2020: भिंड और मुरैना में बिजली बिल को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दिए अलग अलग बयान, बिल माफी और बिल स्थगित होने को लेकर असमंजस

Updated: Sep 11, 2020 10:25 PM IST

बिजली बिल माफी पर शिवराज चौहान की दो घोषणाएं, कांग्रेस ने ली चुटकी
Photo Courtesy: Twitter

भिंड/ मुरैना। मध्य प्रदेश में उपचुनाव की तैयारियों में बीजेपी जुटी है। इसी कड़ी में एक के बाद एक लोकलुभावन वादे मुख्यमंत्री कर रहे हैं। हाल ही में भिंड, मुरैना के दौरे पर गए मुख्यमंत्री ने बिजली बिल को लेकर दो तरह की घोषणाएं कर दी। मुरैना जिले के दिमनी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि कोरोना काल का बिजली का बिल माफ होगा, चालू महीने का ही बिजली का बिल जमा करना होगा। बाकी बिजली का बिल सरकार भरेगी। इसके बाद भिंड जिल के मेहगांव पहुंचे शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मेरे भाइयों आप चिंता मत करना, मैंने सारे बिजली के बिल स्थगित कर दिए हैं।

बिजली के बिल को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की दो तरह की घोषणाओं को लेकर दुविधा की स्थिति बन गई है। बिल माफ किए गए हैं या स्थगित। यानि कुछ समय बाद इन बिलों की वसूली होगी। मुख्यमंत्री की इस घोषणा पर कांग्रेस ने चुटकी ली है। 

कांग्रेस का कहना है कि ‘मुख्यमंत्री शिवराज जी का कमाल, मुरैना बिजली बिल माफ किया और भिंड में बोले बिजली बिल स्थगित कर दिए। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता दुर्गेश शर्मा ने अपने ट्वीट में लिखा है कि ये घोषणावीर का कमाल है। आसपास के जिले में ही अपनी बात से पलट गए। कांग्रेस ने बीजेपी को आड़े हाथ लेते हुए कहा है कि ये भी बता दें कब वसूली करेंगे, वोट डालते ही या रिजल्ट के बाद क्योंकि रिजल्ट के बाद तो आप मुख्यमंत्री रहने वाले नहीं हैं। 

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने भी ट्वीट किया है कि अब चुनाव प्रचार में लगे मुख्यमंत्री एक बिजली बिल को लेकर अलग-अलग घोषणा करते हैं। एक जगह माफ करते हैं तो दूसरी जगह स्थगित करते हैं, उन्हें खुद याद नहीं है। कांग्रेस का आरोप है कि मुख्यमंत्री वादे से पलट गए हैं। पहले बिल माफ करने की बात कही औऱ अब स्थगित करने की बात कह रहे हैं।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुरैना के दिमनी विधानसभा क्षेत्र के रतिराम का पुरा पहुंचे थे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया चार दिन में ग्वालियर-चंबल अंचल की 13 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं।