कोरोना से अगर एक भी विधायक की जान गई, तो इसके इकलौते ज़िम्मेदार होंगे शिवराज, विपिन वानखेड़े ने दी सीएम को चेतावनी

विपिन वानखेड़े ने सीएम शिवराज को लिखा पत्र, विधायकों को फ्रंट लाइन वर्कर का दर्जा देने की मांग की, कहा, वैक्सीन लगाने के लिए दर दर भटक रहे हैं विधायक

Publish: May 12, 2021, 05:59 PM IST

कोरोना से अगर एक भी विधायक की जान गई, तो इसके इकलौते ज़िम्मेदार होंगे शिवराज, विपिन वानखेड़े ने दी सीएम को चेतावनी
Photo Courtesy : Naidunia

भोपाल। कांग्रेस विधायक विपिन वानखेड़े ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को एक पत्र लिखा है। जिसमें उन्होंने विधायकों को फ्रंट लाइन वर्कर का दर्जा देने की मांग की है। वानखेड़े ने शिवराज से कहा है कि इस समय जनता के बीच में रहकर उनकी सेवा करने वाले विधायक वैक्सीन नहीं लगवा पा रहे हैं। ऐसे में, वानखेड़े ने मुख्यमंत्री से पूछा है कि अगर कोरोना से प्रदेश के एक भी विधायक की जान जाती है तो सीधे तौर पर इसका ज़िम्मेदार मुख्यमंत्री को क्यों न माना जाए?

 

कांग्रेस नेता शिवराज को लिखे अपने पत्र में कहा है कि जो विधायक इस कठिन समय में सबसे ज़्यादा जनता के बीच रहकर सहयोग कर रहे हैं, उन्हें ही आपने फ्रंट लाइन वर्कर की श्रेणी में नहीं रखा है। वानखेड़े ने कहा है कि चूंकि विधायकों को फ्रंट लाइन वर्कर का दर्जा प्राप्त नहीं है, इस वजह से वे वैक्सीन लगवाने की भटक रहे हैं। कांग्रेस नेता ने कहा है कि जो विधायक अपनी जान दांव पर लगाकर जनता की सेवा में लगे हुए हैं, उन्हें फ्रंट लाइन वर्कर का दर्जा न देना दुर्भाग्यपूर्ण है। 

यह भी पढ़ें : झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई करने की जगह प्रशिक्षण दे प्रशासन, कांग्रेस विधायक विपिन वानखेड़े की मांग

विपिन वानखेड़े ने मुख्यमंत्री को याद दिलाया है कि प्रदेश में अब तक चार विधायकों की मौत कोरोना के कारण हो चुकी है। ऐसे में आने वाले समय में अगर वैक्सीन के अभाव के कारण एक भी विधायक की मौत होती है, तो इसका ज़िम्मेदार आपको क्यों न माना जाए? कांग्रेस नेता ने शिवराज पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि अगर प्रदेश में विधायक न हों तो आपके पैरों तले ज़मीन खिसक जाए। ऐसे इसलिए क्योंकि इन्हीं विधायकों ने ऐसे कठिन समय में जनता का भरोसा बनाए रखा है। ऐसी परिस्थिति में अगर विधायक को खुद के लिए और अपने परिवार के लिए वैक्सीन हेतु आपके सामने हाथ फैलाना पड़े तो यह अत्यन्त दुर्भाग्यपूर्ण है। वानखेड़े ने कहा कि अगर वैक्सीन के अभाव में किसी विधायक या उसके परिवार के किसी भी सदस्य की मृत्यु हुई तो इसका पूर्ण रूप से ज़िम्मेदार आपको ही माना जाएगा।