दहेज लोभी पति ने नवविवाहिता को पिलाया एसिड, हालत गंभीर, महिला आयोग के हस्तक्षेप के बाद एक आरोपी गिरफ्तार

ग्वालियर निवासी नवविवाहिता को एसिड पिलाने के मामले में पुलिस पर हल्की धाराएं लगाने का आरोप, दिल्ली राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने CM शिवराज को किया ट्वीट, अब पुलिस ने एसिड अटैक और हत्या की कोशिश का केस किया दर्ज, एक गिरफ्तार, दो की तलाश जारी

Updated: Jul 21, 2021, 09:16 PM IST

दहेज लोभी पति ने नवविवाहिता को पिलाया एसिड, हालत गंभीर, महिला आयोग के हस्तक्षेप के बाद एक आरोपी गिरफ्तार
Photo Courtesy: twitter

दिल्ली। ग्वालियर की एक नवविवाहिता से दहेज प्रताड़ना और हत्या की कोशिश का मामला सामने आया है। इस मामले में दिल्ली राज्य महिला आयोग के हस्तक्षेप के बाद एक आरोपी को गरिफ्तार कर लिया गया है। अन्य दो की तलाश जारी है। दरअसल डबरा निवासी एक युवती की शादी ग्वालियर के युवक से कुछ महीने पहले हुई थी। शादी के बाद से ही पति अपनी पत्नी पर तीन लाख रुपए के लिए दबाव बना रहा था। मायके से पैसे नहीं लाने पर ससुराल वालों ने नवविवाहिता जबरन एसिड पिला दिया। जिसके बाद उसे गंभीर हालत में ग्वालियर के अस्पताल में भर्ती किया गया। जहां उसकी खराब हालत के बाद उसे दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहां भी उसकी हालत गंभीर बनी हुई है, महिला का लिवर और आतें बुरी तरह जल गई हैं।

 

मामला सामने आने पर इस पर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष ने संज्ञान लिया है। उन्होंने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री को ट्वीट करते हुए मामले के दोषियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की थी। उन्होंने ग्वालियर पर हल्की धाराओं का केस दर्ज करने का आऱोप लगाया था, उनका कहना था कि नवविवाहिता को जान से मारने की कोशिश की गई थी, इसलिए हत्या की कोशिश का केस दर्ज होना चाहिए। इसे लेकर स्वाती मालीवाल ने कुछ तस्वीरें भी शेयर की थीं। साथ ही लिखा था कि ये भयानक फोटो इस उम्मीद से शेयर की हैं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान अपराधियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी करवाएंगे।

 

सोशल मीडिया पर मचे वबाल के बाद मध्यप्रदेश सरकार एक्टिव हुई और दहेज प्रताड़ना के केस में एसिड अटैक और हत्या की कोशिश की धाराएं जोड़ दीं। जिसके बाद पुलिस ने एक आऱोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल इसी साल 17 अप्रेल को ग्वालियर के घाटीगांव सिमरिया की रहने वाली 22 वर्षीय शशि जाटव की शादी डबरा के रामगढ़ निवासी वीरेंद्र कुमार जाटव के साथ हुई थी। नवविवाहिता के परिजनों का दावा है कि इस शादी में उन्होंने करीब 10 लाख रुपए से ज्यादा का खर्चा किया था।

शादी के तुरंत बाद से ही शशि का पति वीरेंद्र कार की डिमांड कर रहा था, उसने अपनी पत्नी से कहा था कि वह मायके वालों से तीन लाख रुपए देने को कहे, जब भी शशि पैसे मांगने से मना करती तो वह उसे पीटता था।

वीरेंद्र ने 27 जून को फिर से पैसों की मांग की और पैसे नहीं लाने पर शशि को जबरन एसिड पिला दिया। जिससे शशि बुरी तरह झुलस गई, उसने शोर मचा दिया, जिसके बाद पड़ोसियों ने पुलिस को खबर दी और नवविवाहिता को गंभीर हालत में एक निजी हॉस्पिटल में दाखिल किया गया, वहां से भी हालत बिगड़ने पर दिल्ली रेफर कर दिया गया। शशि के मायके वालों ने डबरा सिटी थाने में शिकायत की लेकिन पुलिस ने महज खानापूर्ति के लिए दहेज प्रताड़ना की धाराएं लगाई। महिला आयोग के हस्तक्षेप के बाद पुलिस ने हत्या की कोशिश का केस दर्ज कर एक की गिरफ्तारी की है।