शिवराज के नकारेपन की सज़ा भुगत रहा है पूरा प्रदेश, ग्वालियर में ऑक्सीजन की कमी से दो लोगों की मौत पर कमल नाथ का प्रहार

कमल नाथ ने ग्वालियर में ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत पर सीएम को आड़े हाथों लिया, पूछा जब ऑक्सीजन की कमी नहीं तो कैसे हो रही हैं ये मौतें? ऑक्सीजन और बेड के लिए क्यों दर दर भटक रहे हैं लोग?

Updated: Apr 24, 2021, 04:59 PM IST

शिवराज के नकारेपन की सज़ा भुगत रहा है पूरा प्रदेश, ग्वालियर में ऑक्सीजन की कमी से दो लोगों की मौत पर कमल नाथ का प्रहार
Photo Courtesy: Freepress journal

भोपाल/ग्वालियर। प्रदेश में लगातार हो रही ऑक्सीजन की कमी के बीच शुक्रवार देर रात ग्वालियर के एक अस्पताल में दो मरीजों की मौत हो गई। जयारोग्य अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी होने के बाद मरीजों को कैंपस के एक अन्य अस्पताल कमला राजा अस्पताल में शिफ्ट किया जा रहा था। इस दौरान दो मरीजों की मौत हो गई। प्रदेश में लगातार ऑक्सीजन की किल्लत के कारण हुई लोगों की मौत पर कमल नाथ ने एक बार फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा है। 

कमल नाथ ने शिवराज की तीखी आलोचना करते हुए कहा है कि एक तरफ जब मुख्यमंत्री यह दावा कर रहे हैं कि प्रदेश में ऑक्सीजन और बेड की पर्याप्त व्यवस्था था तब आखिर लोग ऑक्सीजन की कमी से क्यों मर रहे हैं? मुख्यमंत्री के दावे से इतर आज भी प्रदेश में लोग ऑक्सीजन, बेड, इलाज और जीवन रक्षक दवाइयों के लिए दर दर क्यों भटक रहे हैं?

यह भी पढ़ें : जबलपुर: गैलक्सी अस्पताल में देर रात रुक गई ऑक्सीजन की सप्लाई, पांच मरीजों ने तोड़ा दम, मरीजों को तड़पता छोड़ अस्पताल से भाग गए डॉक्टर

कमल नाथ ने यह भी पूछा है कि प्रदेश के अस्पताल ऑक्सीजन की कमी से मरीज़ न भर्ती किए जाने का बोर्ड क्यों लगा रहे हैं? कमल नाथ ने शिवराज सरकार पर अपनी ज़िम्मेदारियों से पल्ला झाड़ने का आरोप लगाते हुए कहा है कि हर रोज़ मरीजों की ज़िंदगियों पर संकट बना हुआ है, ऑक्सीजन की कमी के कारण लोगों की सांसें फूलती रहती हैं लेकिन आप और आपके ज़िम्मेदार रोज़ पल्ला झाड़ लेते हैं कि कोई कमी नहीं है? 

यह भी पढ़ें : जोबट विधायक कलावती भूरिया का निधन, कोरोना से संक्रमित थीं कांग्रेस विधायक

पीसीसी चीफ ने ट्वीट किया, 'अब ग्वालियर में ऑक्सीजन की कमी से मौतों की ख़बर ?शिवराज जी आप कई दिन से कह रहे है कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं, बेड की कमी नहीं, इंजेक्शन की कमी नहीं तो फिर रोज़ ये मौतें ?आज भी प्रदेश भर में लोग ऑक्सीजन, बेड, इलाज, जीवन रक्षक दवाइयों के लिये दर-दर क्यों भटक रहे है? 

यह भी पढ़ें : रेमडेसिविर की कालाबाजारी कर रहे थे जेके अस्पताल में काम करने वाले प्रेमी और प्रेमिका, रेमडेसिविर की जगह मरीजों को पानी इंजेक्ट करते थे दोनों

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अस्पताल ऑक्सीजन की कमी से मरीज़ों को भर्ती नहीं करने का बोर्ड क्यों लगा रहे है ?प्रदेश भर के अस्पतालो में ऑक्सीजन का रोज़ संकट बना रहता है , मरीज़ों के परिजनो की ऑक्सीजन के इंतज़ार में साँसे फूलती रहती है।आप और आपके ज़िम्मेदार रोज़ पल्ला झाड़ लेते है कि कोई कमी नहीं है ?

कमल नाथ ने मुख्यमंत्री से कहा कि आप तो सिर्फ़ इतना बता दे कि प्रदेश के कौन से ज़िले में , कौन से अस्पताल में मरीज़ों के लिये ऑक्सीजन से लेकर बेड , इंजेक्शन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है ?आप अभी भी ज़मीनी सच्चाई को स्वीकार नहीं कर आदत के मुताबिक़ झूठ परोसने में लगे हुए है।प्रदेश की जनता खुली आँखो से आपकी सरकार में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं की तस्वीर रोज़ देख रही है, अपनो को खोते हुए भी रोज़ देख रही है और यह समझ चुकी है कि पिछले एक वर्ष में आपने प्रदेश को कहा लाकर खड़ा कर दिया ? आपकी सरकार की लापरवाही, नाकारापन की सजा आज पूरा प्रदेश भुगत रहा है।