Kamal Nath: जनता जानती है शिवराज चौहान की कितनी घोषणाएं पूरी हुई

MP By Poll 2020: पीसीसी चीफ कमल नाथ ग्वालियर के दो दिवसीय दौरे पर, कमल नाथ अपनी प्रेस वार्ता में बीजेपी और सिंधिया पर जमकर बरसे

Updated: Sep-22, 2020, 06:27 PM IST

Kamal Nath: जनता जानती है शिवराज चौहान की कितनी घोषणाएं पूरी हुई

ग्वालियर। मध्यप्रदेश उपचुनाव के मद्देनज़र पीसीसी चीफ कमल नाथ ग्वालियर के दो दिवसीय दौरे पर हैं। कमल नाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोलते हुए कहा कि राज्य में शिवराज सिंह चौहान ने अपने कार्यकाल में अपने कितने वादे और घोपषनाएं पूरी की यह जनता खुद जानती है। 

ग्वालियर में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कमल नाथ ने कहा कि वे प्रदेश की सत्ता में वापसी करने के बाद ग्वालियर चंबल क्षेत्र का सर्वांगीण विकास करेंगे। कमल नाथ ने कहा कि ग्वालियर -चंबल की राजनीति में व विकास में मैंने अभी तक ज्यादा दखल नहीं दिया पर अब परिस्थितियां बदल गई हैं और बदली परिस्थिति में ग्वालियर-चंबल का विकास मेरी प्राथमिकता रहेगी। हम ग्वालियर- चम्बल का सर्वांगीण विकास करेंगे। 

ग्वालियर की दुर्दशा का ज़िम्मेदार कौन ? 
कमल नाथ ने प्रेस वार्ता के दौरान ग्वालियर चंबल क्षेत्र के प्रदेश में पिछड़ने हेतु सिंधिया घराने पर जमकर निशाना साधा। कमल नाथ ने कहा कि ग्वालियर आज के समय में प्रदेश भर में सबसे पिछड़ा है। इसके लिए ज़िम्मेदार कौन है ? ज़ाहिर है कमल नाथ कांग्रेस की सरकार गिराने में सबसे बड़ी भूमिका अदा करने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके घराने के ऊपर निशाना साध रहे थे। कमल नाथ ने कहा मुझे इस बात का दुख है कि आज से 50 वर्ष पहले प्रदेश की पहचान ग्वालियर से होती थी,कोई इंदौर-भोपाल-जबलपुर की बात नहीं करता था।पिछले कुछ वर्षों में ग्वालियर-चंबल उपेक्षित क्यों रहा? बुनियादी सुविधाए तक ग्वालियर को नहीं मिली? चाहे ग्वालियर की सड़को की बात करे, फ्लाईओवर की बात करे, ग्वालियर क्यों उपेक्षित रहा? इसका ज़िम्मेदार कौन है? 

पहले अपने 15 सालों का हिसाब दे बीजेपी
पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि बीजेपी को मेरे 15 महीने के कार्यकाल का हिसाब मांगने से पहले अपने कार्यकाल का हिसाब देना चाहिए। कमल नाथ ने कहा कि हमने अपनी 15 महीने की सरकार में अपनी नीति और नियत का परिचय दिया। मुझे शिवराज व भाजपा से सर्टिफिकेट नहीं चाहिये, जनता इसकी गवाह है। भाजपा में हिम्मत कैसे हुई जो मुझसे 15 माह का हिसाब मांगते हैं, आज तक अपना 15 साल का हिसाब नहीं दे रहे हैं, पहले अपना हिसाब दे। 

हमने वोट से सरकार बनाई, बीजेपी ने नोट से 
कमल नाथ ने प्रेस वार्ता में बीजेपी के ऊपर लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाते हुए कहा कि हमने प्रदेश में वोट से सरकार बनाई थी लेकिन बीजेपी ने प्रदेश में नोट से अपनी सरकार बना ली। कमल नाथ ने कहा कि बाबा साहेब ने कभी सोचा नहीं होगा कि इस प्रकार की राजनीति अपने देश में होगी। सांसद-विधायक के निधन पर उपचुनाव का प्रावधान तो किया लेकिन सौदा हो जाएगा, बोली लग जाएगी और उपचुनाव होंगे, यह भी भाजपा करेगी? 

कमल नाथ ने प्रदेश के मौजूदा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कहा कि आज शिवराज जी नारियल अपनी जेब में लेकर चलते है, जहां मौका मिलता है फोड़ देते हैं, घोषणा करने लग जाते हैं। कितनी घोषणाएँ शिवराज  ने की 15 साल में, ग्वालियर-चंबल में कितनी घोषणाएँ की, कितनी आज तक पूरी हुई, इसकी सच्चाई जनता जानती है। हमारे कृषि क्षेत्र की आज क्या हालत है? मैं पूछना चाहता हूं कि कृषि उत्पादन बढ़ा, क्या उसके अनुपात में मंडिया बढ़ी, ख़रीदी बढ़ी? शिवराज सरकार में प्रदेश किसानों की आत्महत्या में नं. वन, बेरोजगारी में नंबर वन ,महिलाओं से अत्याचार में नं वन हो गई है। 

गौरतलब है कि प्रदेश में 27 सीटों पर उपचुनाव होने हैं। जिसमें सबसे ज़्यादा 16 सीटें ग्वालियर चंबल के क्षेत्र से आती हैं।