MP में पंचायत चुनाव के अजब-गजब रंग, प्रतिद्वंदी उम्मीदवार का पोस्टर कुत्ते पर चस्पा किया, FIR दर्ज

खंडवा में जिला पंचायत प्रत्याशी मुकेश दरबार ने अपने प्रतिद्वंदी दिव्यादित्य शाह का पोस्टर कुत्ते की पीठ पर चस्पाकर गांव में घुमाया, वन मंत्री विजय शाह के पुत्र हैं दिव्यादित्य

Updated: Jun 28, 2022, 09:48 AM IST

MP में पंचायत चुनाव के अजब-गजब रंग, प्रतिद्वंदी उम्मीदवार का पोस्टर कुत्ते पर चस्पा किया, FIR दर्ज

खंडवा। मध्य प्रदेश में पंचायत चुनाव के अजब गजब रंग देखने को मिल रहे हैं। वोट पाने के लिए कहीं उम्मीदवार मतदाताओं के चरणों में दंडवत कर रहे हैं, तो कहीं प्रतिद्वंदी को नीचा दिखाने के लिए ओछी हरकतों से भी बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला खंडवा जिले से सामने आया है। यहां एक जिला पंचायत के उम्मीदवार ने अपने प्रतिद्वंदी का पोस्टर कुत्ते पर चस्पा दिया और फिर पूरे गांव में कुत्ते को घुमाया।

मामला जिले के वार्ड नंबर 14 का है। यहां से राज्य सरकार में वन मंत्री विजय शाह के पुत्र दिव्यदित्य शाह जिला पंचायत के चुनाव में खड़े हैं। दिव्यादित्य की मां भावना शाह खंडवा से महापौर भी रह चुकी हैं। शाह के खिलाफ वार्ड नंबर 14 से मुकेश दरबार भी चुनाव लड़ रहे हैं। चुनाव प्रचार के दौरान दिव्यादित्य और उनके परिवार को नीचा दिखाने के लिए मुकेश ने कुत्ते का इस्तेमाल किया।

यह भी पढ़ें: ALT न्यूज के सह संस्थापक मोहम्मद ज़ुबैर को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार, धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप

रिपोर्ट्स के मुताबिक मुकेश ने दिव्यादित्य और उनके मंत्री पिता विजय शाह और मां भावना शाह की तस्वीर लगी प्रचार सामग्री को गली के कुत्ते के पीठ पर चिपका दिया। इसके बाद वह कुत्ते को लेकर पूरे गांव में घुमाया। इतना ही नहीं इस हरकत के फोटो और वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए। 

शाह के एक समर्थक संतोष सोनी ने इसकी शिकायत हरसूद थाने में की है। उन्होंने अपनी शिकायत में लिखा है कि मुकेश दरबार ने चुनाव सामग्री से छेड़छाड़ कर आचार संहिता का उल्लंघन किया है। इतना ही नहीं भद्दे प्रचार के लिए कुत्ते का उपयोग कर पशु क्रूरता भी की है। दरबार ने कुत्ते की पीठ पर प्रत्याशी शाह के साथ ही केबिनेट मंत्री विजय शाह व खंडवा की पूर्व महापौर भावना शाह के फोटो लगे पोस्टर कुत्ते की पीठ पर चिपकाकर गांव में घुमाया।

इसका फोटो व वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। जिस ग्रुप में यह फोटो वायरल किया गया उसका एडमिन मुकेश दरबार ही है। इससे प्रदेश के केबिनेट मंत्री व प्रत्याशी का अपमान हुआ है। पुलिस ने दरबार के खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम 1960 की धारा 11(6) के तहत केस दर्ज किया है। सोनी ने शिकायत की प्रति पशु कल्याण बोर्ड भारत सरकार को भी भेजी है।