शोक की घड़ी में क्रिकेट खेलते सिंधिया पर कांग्रेस का वार, गद्दारों ने बेच डाली हया और ईमान

केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गुरुवार को ग्वालियर में निर्माणाधीन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में साथी नेताओं के साथ क्रिकेट खेला, ऐसे वक्त में जब पूरा राष्ट्र सीडीएस विपिन रावत और उनकी पत्नी सहित हादसे में सैन्य अधिकारियों की हुई मौत पर शोक में डूबा हुआ है, सिंधिया का क्रिकेट खेलना किसी के गले नहीं उतर रहा है

Publish: Dec 10, 2021, 11:44 AM IST

शोक की घड़ी में क्रिकेट खेलते सिंधिया पर कांग्रेस का वार, गद्दारों ने बेच डाली हया और ईमान
Photo Courtesy: Aaj Tak

ग्वालियर। सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्नी सहित कुन्नूर हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के पार्थिव शरीर को जब दिल्ली लाया जा रहा था, तब मोदी सरकार में उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया क्रिकेट खेलने में मशगूल थे। गुरुवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने साथी नेताओं के साथ ग्वालियर में क्रिकेट खेलते नजर आए। जिसके बाद से ही भाजपा नेता का सोशल मीडिया पर जमकर विरोध हो रहा है। 

कांग्रेस पार्टी ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की इस संवेदनहीनता की आलोचना की है। कांग्रेस पार्टी ने सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा है कि भाजपा नेता ने हया और ईमान सबकुछ बेच डाला है।

कांग्रेस ने सिंधिया की संवेदनहीनता की आलोचना करते हुए कहा कि यह बेशर्मी की सबसे बड़ी तस्वीर है।जब देश के सबसे बड़े सैन्य अधिकारी समेत 14 लोगों के पार्थिव शरीर विमान से दिल्ली लाये जा रहे थे, तब केन्द्रीय विमानन मंत्री क्रिकेट खेल रहे थे। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल पर कहा कि शर्म बेची, हया बेची बेच दिया ईमान,जयचंदों ग़द्दारों से शर्मिंदा हिन्दुस्तान।“भारत शर्मिंदा है”।

दरअसल गुरुवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर में निर्माणाधीन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का जायजा लेने पहुंचे थे। शंकरपुर क्षेत्र में बन रहे इस स्टेडियम में पहुंच कर ज्योतिरादित्य सिंधिया क्रिकेट खेलने लग गए। शिवराज सरकार में मंत्री तुलसीराम सिलावट और भाजपा जिला अध्यक्ष की गेंदों पर सिंधिया जमकर चौके और छक्के लगाए। बल्लेबाजी करने के बाद सिंधिया ने दौड़ कर मैदान के चक्कर भी लगाए।

यह भी पढ़ें: हेलीकॉप्टर क्रैश में शहीद जितेंद्र जीते जी न देख पाए पक्की सड़क, शहादत के बाद गांव पहुंचा विकास

जिस वक्त सिंधिया स्टेडियम में क्रिकेट खेलने में मशगूल थे, उस वक्त कुन्नूर से बिपिन रावत और उनकी पत्नी सहित हेलीकॉप्टर क्रैश में जान गंवाने वाले 14 लोगों के पार्थिव शरीर को दिल्ली लाया जा रहा था। दुख की घड़ी में केंद्रीय मंत्री द्वारा क्रिकेट का लुत्फ उठाया जाना लोगों को नागवार गुजर रहा है। यही वजह है कि सोशल मीडिया पर भाजपा नेता की इस हरकत के लिए लोग उनकी आलोचना कर रहे हैं।