सिंधिया के महल में चोरी, कड़ी सुरक्षा के बावजूद चोर उड़ा ले गए जय विलास पैलेस का पंखा

जयविलास पैलेस स्थित रानी महल के रिकॉर्ड रूम को चोरों ने बनाया निशाना, कमरे में रखे हुए थे प्रॉपर्टी से जुड़े अहम कागजात, चोरों को पसंद आया महल का पुराना पंखा

Updated: Mar 18, 2021, 11:27 AM IST

सिंधिया के महल में चोरी, कड़ी सुरक्षा के बावजूद चोर उड़ा ले गए जय विलास पैलेस का पंखा
Photo Courtesy: Outlook

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के ग्वालियर में बीजेपी नेता व राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के महल जयविलास पैलेस में चोरी की घटना सामने आई है। चोरों ने पैलेस के रानी महल के रिकॉर्ड रूम में सेंधमारी की है। चोरों ने कमरे में रखे लॉकर का ताला तोड़कर उनमें रखी फाइलों को भी खंगाला और अंत में एक पुराने पंखे को लेकर चंपत हो गए।

जयविलास पैलेस में चोरी होने की जानकारी तब सामने आई जब बुधवार को करीब 12.30 बजे रानी महल की देखभाल का काम देखने वाले सतीश जायसवाल ने साफ-सफाई के लिए रिकॉर्ड रूम का ताला खुलवाया। जब कमरे का ताला खोला गया, तो अंदर सामान बिखरा पड़ा था। कर्मचारी ने इसे महल के अन्य कर्माचरियों को बताया। चेक किया गया तो अलमारी भी अंदर खुली पड़ी थी। फाइले नीचे फर्श पर पड़ी थीं। फिर सिंधिया परिवार को मामले की सूचना दी गई। इसके बाद करीब दोपहर 2.30 बजे SP ग्वालियर को मामले से अवगत कराया गया। 

जयविलास पैलेस में चोरी की घटना सुनकर पुलिस के कान खड़े हो गए और आनन-फानन में दलबल के साथ वरिष्ठ पुलिस अफसर महल पहुंचे। झांसी रोड थाना पुलिस ने फोरेंसिक एक्सपर्ट अखिलेश भार्गव को साथ लेकर जांच पड़ताल की। साथ ही, फिंगर प्रिंट टीम, स्निफर डॉग आदि के साथ पुलिस ने घटना स्थल पर छानबीन की है। 

प्रारंभिक जांच में यह पता लगा है कि चोर रोशनदान से अंदर दाखिल हुए थे। वो रिकॉर्ड रूम की अलमारी में किसी कागज या फाइल को तलाश रहे थे, जिस कारण कमरे में सभी फाइलें उथल-पुथल पड़ी थीं। इसके अलावा एक पुराना पंखा और कम्प्यूटर का CPU चोरी हुआ है। जब पुलिस छानबीन करते हुए छत पर पहुंची, तो वहां CPU पड़ा मिल गया लेकिन चोर पुराने पंखे को अपने साथ ले गए। 

पुलिस ने स्निफर डॉग के साथ स्पॉट पर जब छानबीन की, तो डॉग रिकॉर्ड रूम के पीछे की तरफ जाकर गोल- गोल घूमने लगा। इससे यह समझा जा रहा है कि चोर पीछे से रिकॉर्ड रूम की तरफ आए हैं। माना जा रहा है कि चोर यहां से सोना-चांदी, नकदी चुराने नहीं आए थे। उनका टारगेट किसी फाइल की चोरी करना था। इसीलिए चोरों ने रानी महल के रिकॉर्ड रूम पर धावा बोला। 

 पुलिस भी नहीं समझ पा रही है कि दरवाजे से लेकर अंदर तक इतनी कड़ी सुरक्षा को भेदकर चोर कैसे अंदर पहुंच गए। गर्मी वाले थ्योरी को छोड़ दें तो यह बात भी समझ से परे है कि चोर आखिर पुराने पंखे को अपने साथ लेकर क्यों गए। बहरहाल पुलिस का दावा है कि जांच सही दिशा में चल रही है और चोरों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।