पेड़ की डाल काटने गए दो युवकों को दौड़ा दौड़ाकर पीटा, मामले में तीन लोग गिरफ्तार

पिटाई की शिकायत लेकर थाने पहुंचे थे पीड़ित, लेकिन पुलिस ने नहीं की दोषियों पर कार्रवाई, ज़िले के एसपी ने वीडियो वायरल होने के बाद थाना प्रभारी से किया संपर्क, एसपी के आदेश के बाद स्थानीय पुलिस ने किया तीन लोगों को गिरफ्तार, अन्य आरोपी अब भी पुलिस की पहुंच से बाहर

Updated: Sep 14, 2021, 09:35 PM IST

पेड़ की डाल काटने गए दो युवकों को दौड़ा दौड़ाकर पीटा, मामले में तीन लोग गिरफ्तार

रीवा। रीवा ज़िले में लोगों की भीड़ ने सरेआम दो युवकों की पिटाई कर दी। विवाद पेड़ की डाल को काटने को लेकर शुरु हुआ था। जिसने बाद में हिंसा का रुप ले लिया। दोनों ही पीड़ित युवक रिश्ते में भाई लगते हैं। इस मामले में पुलिस ने अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन इस मामले में स्थानीय पुलिस के रवैये की आलोचना हो रही है। क्योंकि थाने में शिकायत लेकर पहुंचे पीड़ित युवकों की फरियाद पुलिस तब तक अनसुना करती रही, जब तक कि ज़िले के एसपी ने खुद थाना प्रभारी को कार्रवाई के आदेश नहीं दे दिए।  

यह मामला रीवा के जवा थाना क्षेत्र का है। शनिवार को सितलहा गांव के रहने वाले दो भाई ब्रिजेंद्र दुबे और विवेक दुबे नगमा गांव में पेड़ की डाल काटने के लिए गए थे। दोनों पेड़ की डाल की कटाई कर ही रहे थे कि गांव के रहने वाले फिरोज़, अफरोज़ और हुसैन नामक युवकों ने दोनों भाइयों को ऐसा करने से रोक लिया। लेकिन अगले दिन यानी रविवार को दोनों भाई एक बार फिर उसी जगह पेड़ की डाल काटने पहुंच गए। 

दोनों को पेड़ की डाल काटते देख लोगों की भीड़ ने दोनों युवकों को पीट दिया। भीड़ ने दोनों पर लाठी डंडों की बरसात कर दी। इस बीच दोनों ही युवक रहम की भीख मांगते रहे लेकिन कोई उन्हें बचाने नहीं आया। जैसे-तैसे दोनों भाई जवा थाने में मामले की शिकायत दर्ज कराने पहुंचे। लेकिन पुलिस ने दोनों युवकों की फरियाद पर संज्ञान लेना भी मुनासिब नहीं समझा। 

यह भी पढ़ें ः डिंडौरी कलेक्टर ने युवक से जबरन साफ करवाया अपना थूक, वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

सोमवार रात में जब ज़िले के एसपी नवनीत भसिन ने मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर देखा तो दंग रह गए। एसपी ने तत्काल ही थाना प्रभारी से संपर्क किया और इस मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई करने के आदेश दिए। पुलिस ने मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं अन्य आरोपियों की तलाश अभी जारी है।