Vikas Dubey : हर साल सावन में उज्जैन जाता था विकास दुबे

Vikas Dubey Arrested Live Updates: विकास की मां ने कहा कि महाकाल ने ही उसे जिंदा बचाया

Publish: Jul 09, 2020 08:49 PM IST

Vikas Dubey : हर साल सावन में उज्जैन जाता था विकास दुबे

कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों के हत्या के आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद उसकी मां सरला देवी ने बताया है कि वह हर साल सावन के महीने में उज्जैन स्थित महाकालेश्वर मंदिर में दर्शन लाभ लेने जाता था। विकास की सुरक्षित गिरफ्तारी पर सरला ने कहा है कि महाकाल ने ही उसे जिंदा बचाया है। इसके पहले पुलिस ने आज तड़के सुबह करीब 6 बजे विकास के खास प्रभात उर्फ कार्तिकेय को कानपुर के पनकी में मार गिराया था। 

अकाल मृत्यु से बचने के लिए महाकाल का सहारा

पिछले 6 दिनों से तमाम राज्यों के पुलिस को चकमा देते हुए विकास दुबे गुरुवार (9 जुलाई) को मध्यप्रदेश के उज्जैन स्थित महाकालेश्वर मंदिर में बाबा महाकाल का दर्शन करने आया था। बताया जा रहा है कि वह बाबा महाकाल का बड़ा भक्त है और उसका मानना है कि महाकाल के भक्तों की अकाल मृत्यु नहीं होती है। उसने अपने घर के बाहर भी एक मंदिर बनवा रखा था।  मंदिर में वह प्रतिदिन दो घंटे पूजा-पाठ करता था।

विकास दुबे की मां ने उसकी गिरफ्तारी के बाद मीडिया को बताया है कि वह हर साल सावन महीने में महाकाल का दर्शन करने जाता था और बाबा महाकाल ने ही उसे एनकाउंटर होने से बचाया है।

हाथ के अंदर ऑपरेशन करवा डाला था दुर्गा कवच

रिपोर्ट्स के मुताबिक विकास दुबे भगवान की भक्ति में काफी विश्वास रखता था। उसके सकुशल गिरफ्तारी के बाद उसके बारे में तरह-तरह के नए खुलासे हो रहे हैं। विकास के शत्रु माने जाने वाले पूर्व न्याय पंचायत अध्यक्ष लल्लन बाजपई के हवाले से बताया जा रहा है कि विकास को डर भी लगता है। इस डर से बचने के लिए उसने अपने हाथ के अंदर ऑपेरशन करवा कर जीवनरक्षक दुर्गा कवच डलवा लिया था। इसके बाद उसका आत्मविश्वास इतना बढ़ा की उसके दिल से मौत का खौफ खत्म हो गया। वह शोभन सरकार का शिष्य था और उनके कहने पर ही उसके ऐसा किया था।