दिल्ली के बत्रा हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की कमी से 8 मरीजों की मौत, 80 मिनट तक तड़पते रहे मरीज़

एक हफ़्ते में दूसरी बार बत्रा हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की क़िल्लत, हाईकोर्ट ने कहा अब पानी सिर के ऊपर जा चुका है, केंद्र आज ही कराए 490 MT ऑक्सीजन की आपूर्ति

Updated: May 01, 2021, 05:32 PM IST

दिल्ली के बत्रा हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की कमी से 8 मरीजों की मौत, 80 मिनट तक तड़पते रहे मरीज़
Photo courtesy: business stadard

दिल्ली। कोरोना महामारी के कहर और ऑक्सीजन की किल्लत ने 8 मरीजों की जान ले ली। जिसके बाद दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र को फटकार लगाते हुए कहा है कि आज ही 490 MT ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाए। ऐसा नहीं करने पर कोर्ट की अवमानना का केस चलाया जाएगा।

इस मामले में दिल्ली सरकार की ओर से हाईकोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली के ऑक्सीजन टैंकरों को प्राथमिकता नहीं दी जा रही है। दिल्ली को रोजाना संघर्ष करना पड़ रहा है। इसी दौरान अधिवक्ता विराट गुप्ता ने कोर्ट में राजनैतिक पार्टियों पर आरोप लगाया कि 12 राजनैतिक पार्टियां ऑक्सीजन की ब्लैक मार्केटिंग में लगी हुई हैं। दिल्ली सरकार ने दिल्ली हाई कोर्ट से अपील कर सप्लायरों के खिलाफ अवमानना की कार्यवाही करने की मांग की है। कहा गया है कि आयनॉक्स के साथ ऑक्सीजन सप्लाई में परेशानियां आ रही हैं।

जिसके बाद दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र को निर्देशित किया है कि किसी भी परिस्थिति में दिल्ली को आज 490 MT ऑक्सीजन पहुंचनी चाहिए। यदि इसका पालन नहीं किया गया तो अदालत अवमानना की कार्रवाई की जा सकती है। कोर्ट ने सख्त लहजे में कहा है कि अगर यह काम पूरा नहीं होता है तो DPIIT के सचिव को अगली सुनवाई में कोर्ट के समक्ष हाजिर होना पड़ेगा। अब पानी सर से ऊपर जा चुका है।''

बत्रा अस्पताल ने कोर्ट को बताया कि आक्सीजन की कमी होने पर उन्होंने दिल्ली सरकार के अधिकारियों और अस्पतालों के प्रतिनिधियों के बनाए व्हाट्सएप ग्रुप पर भी रिक्वेस्ट भेजी थी। लेकिन कहा गया था कि 'अभी हमें डिस्टर्ब न करें'। दरअसल ऑक्सीजन की कमी से दिल्ली के बत्रा हास्पिटल में 8 मरीजों ने दम तोड़ दिया। मरने वालों में एक डाक्टर भी थे, वे गैस्ट्रोलॉजी विभाग के हेड थे। यह हादसा उस वक्त हुआ जब दिल्ली हाई कोर्ट में ऑक्सीजन की कमी मामले की सुनवाई की जा रही थी।

दिल्ली सरकार की मांग है कि उसे उसके कोटे की ऑक्सीजन दी जाए। अपने लोगों की मौतें अब और नहीं देखी जाती है। बता दें कि दिल्ली को 976 टन ऑक्सीजन की जरुरत है, लेकिन उन्हें मजह 312 टन ऑक्सीजन दी गई। गौरतलब है कि बीते 24 घंटों में देश में नए कोरोना संक्रमितों की संख्या चार लाख के पार हो चुकी है। कल 4 लाख 2 हजार नए केस सामने आए हैं। साढ़े तीन हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। वहीं 3 लाख लोगों ने कोरोना कोमातदी है। कोरोना एक्टिव मरीजों की संख्या 32 लाख से ज्यादा है।