ममता ने दिया मोदी को चुनौती, झूठे साबित हुए तो कान पकड़कर उठक-बैठक लगाएं प्रधानमंत्री

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बोलीं, अगर मैं झूठी साबित हुई तो छोड़ दूंगी पॉलिटिक्स, क्या प्रधानमंत्री मोदी झूठे साबित हुए तो कान पकड़कर उठक बैठक करेंगे

Publish: Apr 14, 2021, 02:17 PM IST

ममता ने दिया मोदी को चुनौती, झूठे साबित हुए तो कान पकड़कर उठक-बैठक लगाएं प्रधानमंत्री
Photo Courtesy: NDTV

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करारा वार किया है। सीएम ममता ने मोदी को कान पकड़कर उठक-बैठक करने की चुनौती दे डाली है। ममता बनर्जी ने ये बात पीएम के झूठा साबित होने को लेकर कही है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि अगर मैं झूठा साबित होती हूं तो मैं राजनीति से त्यागपत्र दे दूंगी।

चुनाव आयोग द्वारा प्रचार करने से 24 घंटे के लिए प्रतिबंधित किए जाने के बाद ममता ने बारासात में एक राजनीतिक रैली को संबोधित किया। टीएमसी चीफ इस दौरान बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर बरसीं। उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री झूठे हैं।' इस दौरान उन्होंने तत्काल खुद को संभालते हुए कहा कि, 'झूठा असंसदीय शब्द है। प्रधानमंत्री मोदी लोगों को गुमराह कर रहे हैं।'

सीएम ममता बनर्जी ने आगे कहा, 'पीएम मोदी ने कृष्णानगर की एक सभा में कहा कि ममता दीदी ने मतुआ समुदाय के लिए कुछ भी नहीं किया है। मैं उनसे खुलेआम कहती हूं कि आप मेरी चुनौती स्वीकार कीजिए, अगर मैंने मतुआ समुदाय के लिए कुछ नहीं किया होगा, तो मैं हमेशा के लिए राजनीति से सन्यास ले लूंगी। लेकिन अगर प्रधानमंत्री झूठ बोल रहे हैं, बिना कुछ किए लगातार झूठ फैला रहे हैं, तो क्या आप कान पकड़कर उठक बैठक करेंगे?'

ममता ने चुनाव आयोग और आदर्श आचार संहिता को लेकर भी गंभीर सवाल खड़े किए हैं। सीएम ममता ने कहा है, 'चुनाव आयोग ने अभूतपूर्व तरीके से बंगाल के चुनाव को 8 चरणों में बांट दिया है। चुनाव वाले दिन भी प्रधानमंत्री यहां आकर प्रचार कर रहे हैं। मतदान वाले दिन चुनाव आयोग मोदी के रैली पर रोक क्यों नहीं लगाता। मैं चुनाव के दिन अपने बैठकों को रद्द करने के लिए तैयार हूं।' बता दें कि बंगाल में चार चरणों का मतदान हो चुका है वहीं पांचवें चरण के लिए 17 अप्रैल को मतदान है।