बीजेपी के मंत्री ने उड़ाया लोगों की परेशानी का मज़ाक़, बोले, महंगाई से जनता परेशान नहीं, आदत हो गई है

बिहार सरकार में बीजेपी कोटे से पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद ने कहा कि आम जनता गाड़ी से नहीं बस से चलती है, उस पर पेट्रोल-डीज़ल की महंगाई का कोई खास असर नहीं पड़ रहा है

Updated: Feb 20, 2021, 04:44 PM IST

बीजेपी के मंत्री ने उड़ाया लोगों की परेशानी का मज़ाक़, बोले, महंगाई से जनता परेशान नहीं, आदत हो गई है
Photo Courtesy: Patrika

पटना। देशभर में लगातार बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की कीमतों से आम लोग बेहाल हैं। लेकिन बीजेपी के नेता-मंत्री उनकी इस परेशानी का मज़ाक उड़ा रहे हैं। बीजेपी नेता और बिहार सरकार के मंत्री नारायण प्रसाद ने कहा है कि महंगाई से लोग परेशान नहीं होते, क्योंकि अब तो उन्हें इसकी आदत हो गई है। उन्होंने यह भी कहा कि पेट्रोल-डीज़ल के दाम बढ़ने से आम लोगों पर खास असर नहीं पड़ता, क्योंकि वो अपनी गाड़ी से नहीं, बस से चलते हैं। 

बिहार के बीजेपी नेता और पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद ने आम लोगों के ज़ख्मों पर मरहम लगाने की जगह नमक-मिर्च छिड़कने वाला ये बयान शुक्रवार को मीडिया से बातचीत के दौरान दिया। उन्होंने कहा कि  'लोगों को महंगाई की आदत हो गई है। इससे आम जनता परेशान नहीं है। बजट आता है तो थोड़ी महंगाई होती ही है। इससे कोई खास फर्क नहीं पड़ता।' 

पेट्रोल-डीजल के बढ़ रही कीमतों से लोगों की जेब पर पड़ने वाले बोझ से बेपरवाह बीजेपी के मंत्री ने कहा, आम जनता अपनी गाड़ी से नहीं बस से चलती है। इसलिए उनको बढ़े हुए दामों से कोई परेशानी नहीं हो रही है। और लोगों को धीरे-धीरे आदत हो जाती है। आम जनता पर इसका बहुत कम असर होता है।'

दरअसल,  बिहार विधानसभा परिसर में महंगाई के मुद्दे पर विपक्षी सदस्य धरना-प्रदर्शन करते हुए सरकार के विरोध में नारेबाजी कर रहे थे। विपक्ष के इस प्रदर्शन पर सरकार का पक्ष जानने के लिए पत्रकारों ने जब पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद से जवाब मांगा तो उन्होंने ये बातें कही। हैरानी की बात है कि नारायण प्रसाद को नहीं पता कि डीज़ल के दाम बढ़ने का असर ट्रांसपोर्ट की लागत पर पड़ता है, जिसका असर खाने-पीने की चीजों से लेकर हर सामान की कीमत पर पड़ता है। इतना ही नहीं, किसानों के लिए भी ट्रैक्टर से लेकर सिंचाई में इस्तेमाल होने वाले डीज़ल पंप और फसल को बाज़ार में पहुंचाने का भाड़ा तक तमाम खर्च बढ़ जाते हैं। बीजेपी नेता को यह भी नहीं पता कि देश के आम लोगों की कितनी बड़ी आबादी मोटरसाइकिलों का इस्तेमाल भी करती है, जिन पर पेट्रोल के दामों में बढ़ोतरी का सीधा असर पड़ता है।