PM के संबोधन पर चिदंबरम का तंज, सीटें रह गईं खाली, नहीं बजाई किसी ने ताली

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने भी पीएम मोदी के भाषण को ही आधार बना कर उत्तर प्रदेश और असम के मुख्यमंत्रियों पर तंज कसा है

Updated: Sep 26, 2021, 11:56 AM IST

PM के संबोधन पर चिदंबरम का तंज, सीटें रह गईं खाली, नहीं बजाई किसी ने ताली

नई दिल्ली। संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन को लेकर एक तरफ जहां बीजेपी प्रधानमंत्री का गुणगान करते नहीं थक रही है, तो वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया और खासकर कांग्रेस प्रधानमंत्री के संबोधन को निराशाजनक करार दे रही है। कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने पीएम के संबोधन पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि संयुक्त राष्ट्र में भारत का स्थाई मिशन गड़बड़ा गया है। 

इतना ही नहीं पी चिदंबरम ने प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन के दौरान अधिकतर सीटें रिक्त रहने पर तंज कसा। चिदंबरम ने पीएम के संबोधन को लेकर ट्वीट करते हुए कहा है कि मुझे यह देखकर काफी निराशा हुई कि प्रधानमंत्री मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा को जिस समय संबोधित कर रहे थे, उस दौरान अधिकतर सीटें खाली थीं। 

चिदंबरम ने कहा कि इससे ज्यादा भी निराशा तब हुई जब किसी ने प्रधानमंत्री के संबोधन के दौरान ताली नहीं बजाई। कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि संयुक्त राष्ट्र में भारत का स्थाई मिशन बुरी तरह से गड़बड़ा गया है। 

पीएम के संबोधन को लेकर कपिल सिब्बल ने भी भाजपाई मुख्यमंत्रियों पर निशाना साधा है। कपिल सिब्बल ने प्रधानमंत्री के संबोधन के एक अंश का उल्लेख करते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने भारत को लोकतंत्र की जननी बताया है। मुझे उम्मीद है कि योगी जी और हिमंत बिस्वा सरमा सुन रहे होंगे।  

प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स भी सवाल खड़ा कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर एक धड़ा यह कह रहा है कि संयुक्त राष्ट्र में भी प्रधानमंत्री की संबोधन शैली वैसी ही थी, जैसे कि वो किसी चुनाव में प्रचार करने गए हों। हालांकि प्रधानमंत्री की पार्टी का दावा है कि प्रधानमंत्री के संबोधन से देश गौरवान्वित हुआ है।