दिल्ली: काम के दबाव में आकर दिल्ली के डॉक्टर ने की खुदकुशी, रोजाना कोरोना मरीजों को मरते देखकर थे दुखी

दिल्ली के निजी अस्पताल के डाक्टर ने तनाव की वजह से की आत्महत्या, ICU में कोरोना मरीजों को मरते देखने से थे दुखी, 2 माह की गर्भवती पत्नी को लिखा इमोशनल लेटर, बच्चे से कहा तेरा पिता कायर नहीं था

Updated: May 02, 2021, 04:11 PM IST

दिल्ली: काम के दबाव में आकर दिल्ली के डॉक्टर ने की खुदकुशी, रोजाना कोरोना मरीजों को मरते देखकर थे दुखी
Photo courtesy: The News Minute

दिल्ली। कोरोना काल में न सिर्फ मरीज परेशान और डिप्रेशन की स्थिति में हैं, बल्कि अब कोरोना की वजह से नॉन स्टाप ड्यूटी कर रहे डाक्टरों की हिम्मत भी जवाब देने लगी है। दिल्ली के मैक्स अस्पताल के एक डाक्टर ने काम के तनाव में आकर फांसी लगाकर जान दे दी।

गोरखपुर निवासी डॉक्टर का नाम विवेक राय था, मरने से पहले डाक्टर ने अपनी पत्नी को एक वीडियो मैसेज भेजा है। डॉक्टर की पत्नी दो महीने की गर्भवती है। पांच महीने पहले ही डाक्टर की शादी हुई थी। उसने अपनी गर्भवती पत्नी को जो वीडियो मैसेज भेजा है उसमें उसने अपने अजन्मे बच्चे से बच्चे से माफी मांगी है। डॉक्टर ने कहा है कि "सॉरी मेरे बच्चे...तुझे देख नहीं पाऊंगा, तेरा बाप कायर नहीं था, उसे हालात ने मारा।" पुलिस को मिले सुसाइड नोट में डॉक्टर ने लिखा है कि "परिवार और दोस्त, मेरे जानने वाले सब खुशहाल रहें।" डाक्टर ने अपने सुसाइड की कोई वजह नहीं लिखी है।

दिल्ली में कार्यरत 35 वर्षीय डॉक्टर विवेक राय अपने माता पिता की इकलौती संतान थे। काम के तनाव में आकर डाक्टर ने आत्महत्या कर ली। इस घटना की खबर मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। डाक्टर विवेक मैक्स अस्पताल में DNB फर्स्ट ईयर के रेजीडेंट डॉक्टर थे।

करीब एक महीने से कोरोना ड्यूटी में ICU में पदस्थ थे। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ICU में रोजाना करीब 8-10 कोरोना मरीजों का CPR और ACLS कर रहे थे। जिनमें से कई मरीजों की मौत हो गई थी। अस्पताल में मरते मरीज़ों की हालत देखकर डॉक्टर काफी परेशान चल रहे थे। इन सब परेशानियों की वजह से डाक्टर परेशान थे औऱ उन्होंने आत्महत्या कर ली। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व चीफ ने भी ट्वीट में डॉक्टर की मौत की वजह काम के चलते पैदा हुए डिप्रेशन को बताया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।