Digvijaya Singh: पीएम मोदी ने चीनी कंपनियों को दी मुफ्त जमीन

India China Relation: सांसद दिग्विजय सिंह ने शेयर किया एक वीडियो, पीएम बनते ही नरेंद्र मोदी ने देश के दरवाजे चीनी कंपनियों के लिए खोले

Updated: Aug 24, 2020 10:13 PM IST

Digvijaya Singh: पीएम मोदी ने चीनी कंपनियों को दी मुफ्त जमीन
courtsey : twitter

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने सोमवार (24 अगस्त) को अपने ट्वीटर अकाउंट से एक वीडियो शेयर किया है। सिंह ने वीडियो का कैप्शन शी-मोदी, भाई-भाई दिया है, अर्थात चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उन्होंने भाई बताया है। वीडियो के शुरुआत में कहा गया है कि चीनी-भाजपाई भाई-भाई वहीं अंत में कहा गया है कि चीन का जो यार है देश का गद्दार है।

कांग्रेस नेता ने वीडियो के माध्यम से पीएम मोदी को गुजरात दंगों के बाद चीन जाने को लेकर निशाने पर लिया है। वीडियो में कहा गया है कि, 'गुजरात दंगों के बाद बहुत से यूके और अमेरिका समेत बहुत से देशों ने गुजरात के तत्कालीन सीएम नरेंद्र मोदी पर पाबंदी लगा दी थी। तब मोदी ने चीन का रुख किया था। चीन ने मोदी को अपने प्रेम जाल में फंसाया था। इसके बाद गुजरात देखते ही देखते चीनी निवेश का हब बन गया। 2017 के गुजरात विधानसभा चुनाव में ग्लोबल टाइम्स ने लिखा कि चीनी कंपनियां चाहती हैं कि गुजरात में एक बार फिर नरेंद्र मोदी की जीत हो।'

पूर्व सीएम द्वारा शेयर किए गए वीडियो में दावा किया गया है कि मोदी की जीत चीनी कंपनियों के लिए फायदेमंद रही है। वीडियो में बताया गया है कि यूपीए सरकार ने जब मोदी को चीन जाने से रोका तो वह हांगकांग होते हुए चीन पहुंच गए थे। उन्होंने पीएम बनते ही देश का दरवाजा चीनी कंपनियों के लिए खोल दिया और चीनी कंपनियों को मुफ्त में जमीनें दी। चीन ने गुजरात में 45 हजार करोड़ का निवेश किया। चीनी कंपनियों के गुजरात तट पर कब्जा जमा लिया और अडानी के मुंद्रा पोर्ट पर निवेश कर चीन ने उसे अपना बना लिया।'

चीनी राष्ट्रपति के साथ झूला झूलते पीएम नरेंद्र मोदी

Click  पीएम मोदी कर रहे इतिहास बदलने की कोशिश

वीडियो में बताया गया है कि पीएम ने इस दौरान चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से 18 बार मुलाकात की और उन्हें अपना मेहमान बनाया, चाय पिलाई और झूला झुलाया। उसके बाद अंत मे लद्धाख पर कब्जा कराया। चीन का को यार है देश का गद्दार है।'