हरियाणा: किसान ने BJP मंत्री से पुरस्कार लेने से किया इनकार, कहा यह शहीद किसानों का अपमान होगा

सहकारिता राज्य मंत्री डॉ बनवारी लाल गोहाना चीनी मिल पहुंचे थे, यहां सबसे ज्यादा गन्ना उत्पादन करने वाले किसान का सम्मान होना था, लेकिन किसान ने स्टेज से ही मंत्री के हाथों पुरस्कार लेने से मना कर दिया

Updated: Nov 13, 2021, 10:10 AM IST

हरियाणा: किसान ने BJP मंत्री से पुरस्कार लेने से किया इनकार, कहा यह शहीद किसानों का अपमान होगा

गोहाना। हरियाणा सरकार के एक मंत्री को उस वक़्त शर्मिंदा होना पड़ा जब एक किसान ने उनके हाथों से पुरस्कार लेने से इनकार कर दिया। किसान का कहना था कि काले कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन में सैंकड़ों किसानों ने जान गंवाई है। बीजेपी मंत्रियों से पुरस्कार लेना शहीद किसानों का अपमान हैं। पुरस्कार ले लिया तो प्रदर्शन कर रहे किसानों को क्या जवाब दूंगा?

दरअसल, हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल शुक्रवार को गोहाना चीनी मिल में पिराई सत्र की शुरुआत करने पहुंचे थे। इस दौरान चीनी मिल में सर्वाधिक गन्ना उत्पादन करने वाले किसान का सम्मान होना था। लेकिन किसान ने मंच पर ही सहकारिता मंत्री के हाथों सम्मान लेने से मना कर दिया। इसके बाद मंत्री के बॉडीगार्ड किसान को स्टेज से नीचे उतार दिया।

यह भी पढ़ें: सिंगरौली DM का फरमान, वैक्सीन नहीं लेने वालों पर करें FIR, एक्सपर्ट्स बोले- मजबूर नहीं कर सकते

सिरसाढ़ के किसान सुरेंद्र लठवाल ने कहा की तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे सैंकडों किसानों की मौत हो चुकी है। ऐसे में बीजेपी मंत्री के हाथों सम्मानित होना शहीद किसानों का अपमान है। यदि मुझे चीनी मिल के एमडी सम्मानित करेंगे तो मैं पुरस्कार लूंगा अन्यथा नहीं लूंगा। अगर मैं इनके हाथों पुरस्कार लेता हूं तो साल भर से प्रदर्शन कर रहे अपने साथियों को क्या जवाब दूंगा? 

इतना ही नहीं बाद में किसान ने पुरस्कार की राशि चीनी मिल को दान में देने की अपील की। सोशल मीडिया पर किसान सुरेंद्र लठवाल का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने इसपर कहा है कि बीजेपी मंत्रियों के आयोजनों का इसी प्रकार विरोध करना पड़ेगा। बता दें कि किसानों के आक्रोश को देखते हुए इस कार्यक्रम में पहले से ही भारी संख्या में फोर्स को तैनात किया गया था।