एमपी के बाद ओडिशा के पत्रकार पर ज़ुल्म का वीडियो वायरल, राज्य पुलिस ने पैरों में लगाई बेड़ियां

पत्रकार का आरोप है कि उन्हें 12 घंटे तक थाने में रखकर कई तरह की यातनाएं दी गईं, जब पत्रकार की हालत बिड़ने लगी तो उन्हें गुरुवार की रात को बालेश्वर जिला मुख्य अस्पताल में भर्ती कराया गया.. पुलिस पर कस्टडी में भी यातनाएं देने का आरोप है

Updated: Apr 08, 2022, 11:54 AM IST

एमपी के बाद ओडिशा के पत्रकार पर ज़ुल्म का वीडियो वायरल, राज्य पुलिस ने पैरों में लगाई बेड़ियां

बालेश्वर। ओडिशा में एक पत्रकार को गिरफ्तार करने के बाद उसे बेड़ियों से बांधने की घटना सामने आई है। पीड़ित पत्रकार की पहचान बालेश्वर जिले के लोकनाथ दलेई के रूप में हुई है। इस घटना को लेकर पत्रकारों में रोष है। स्थानीय पत्रकारों ने बालेश्वर एसपी से मिलकर आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

जानकारी के मुताबिक बीते पांच अप्रैल की रात को पत्रकार लोकनाथ दलेई ऑफिस से अपने घर लौट रहे थे। इस दौरान नीलगिरि थाने के अधिकारी की गाड़ी उनकी गाड़ी से जा टकरायी थी। मौके पर ही इसे लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ। हालांकि, वहां मौजूद लोगों ने उन्हें समझा-बुझाकर अपने-अपने रास्ते भेज दिया था।

यह भी पढ़ें: मैं आपकी बहू-बेटियों के साथ रेप करूंगा, सीतापुर में महंत ने समुदाय विशेष के खिलाफ उगला जहर

अगली सुबह पुलिस ने लोकनाथ दलेई को होमगार्ड पर हमला करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। लोकनाथ ने बताया कि उन्हें 12 घंटे तक थाने में रखकर कई तरह की यातनाएं दी गईं। जब उनकी हालत बिड़ने लगी तो उन्हें गुरुवार की रात को बालेश्वर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन दुर्भाग्य की बात यह थी कि उनके पैरों में लोहे की बेड़ियां डाल दी गई थी, ताकि वह कहीं भाग न सके।

इस घटना के जो वीडियो सामने आए हैं उनमें देखा जा सकता है कि अस्पताल में भी उन्हें बेड पर नहीं बल्कि नीचे लेटाया गया है। पत्रकार के पैरों में बेड़ियां लगाने के बाद अब ओडिशा पुलिस के खिलाफ देशभर के पत्रकारों पर आक्रोष उभर कर सामने आ रहा है।